हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

उत्तराखंडः BRO बनाएगी 5 हैलीपैड, 2 सुरंग और 14 सड़कें, भारत-चीन बॉर्डर पर भारतीय सेना पहुंचेगी पलक झपकते। खाका तैयार..

0
Construction blueprint ready for India-China border security Hillvani News Uttarakhand

Construction blueprint ready for India-China border security Hillvani News Uttarakhand

उत्तराखंडः प्रदेश की 345 किलोमीटर लंबी सीमा चीन से सटी हुई है, राज्य की उत्तरकाशी, चमोली और पिथौरागढ़ जनपद की सीमा से जुड़ी है। अब सुरक्षा की दृष्टि से बॉर्डर रोड ऑर्गनाईजेशन ने सीमा की सुरक्षा के लिए एक निर्माण खाका तैयार किया है। जिसके बाद भारत-चीन बॉर्डर पर अब पलक झपकते ही भारतीय सेना पहुंच जाएगी। बॉर्डर रोड ऑर्गनाईजेशन (बीआरओ) ने उत्तराखंड में चीन सीमा पर सामरिक महत्व की 14 नई सड़क, दो सुरंग ओर पांच हैलीपैड निर्माण का खाका तैयार किया है।

यह भी पढ़ेंः नैनीताल हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, डीएलएड प्रशिक्षण प्राप्त अभ्यर्थियों को दी बड़ी राहत। शिक्षक बनने का सपना होगा साकार..

बॉर्डर रोड ऑर्गनाईजेशन ने उक्त प्रस्ताव बीते दिन उत्तराखंड के राज्यपाल के सामने साझा किया है। बीआरओ के अधिकारियों ने राज्यपाल के सामने उत्तराखंड में प्रस्तावित परियोजनाओं पर प्रस्तुतिकरण दिया। जिसमें नई सड़कें, सुरंग, हेलीपैड और मौजूदा हवाई पट्टियों का विस्तार शामिल है। इस पूरे प्रोजेक्ट पर कुल 13707 करोड़ रुपए का खर्च आने का अनुमान है। राज्यपाल सिंह ने कार्ययोजना की सराहना करते हुए कहा कि वो इस बारे में राज्य और केन्द्र सरकार से बात करेंगे। राज्यपाल ने कहा कि वो जल्द ही मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव के साथ इस विषय पर बैठक करेंगे।

यह भी पढ़ेंः शुक्र का मीन राशि में गोचर, 12 राशियों पर होगा असर। देखें आपकी राशि पर कैसा रहेगा प्रभाव..

नई सड़कें
उत्तरकाशी जंगला पुल से झाला – 17.3 किमी, 207 करोड़
उत्तरकाशी- तिलवाड़ा- गोपेश्वर – 286 किमी, 3146 करोड़
कालीमठ से केदारनाथ – 20 किमी, 240 करोड़
चोपता से तुंगनाथ – 10 किमी, 120 करोड़
गोपेश्वर से रुद्रनाथ – 35 किमी, 420 करोड़
कांचुलीखर्क से कार्तिकस्वामी – 10 किमी, 120 करोड़
रुद्रप्रयाग – नागनाथ पोखरी – 55 किमी, 605 करोड
गोविंदघाट से घांघरिया – 25 किमी, 300 करोड़
जोशीमठ से औली – 10.9 किमी, 152 करोड़
ग्वालदम से तपोवन – 80 किमी, 960 करोड़
बारी- पनाली से नामिक – 55 किमी, 660 करोड़
अल्मोड़ा से बागेश्वर – 75 किमी, 833 करोड़
ओगला से बागेश्वर – 103 किमी, 1144 करोड़
घनसाली से घुत्तु – 31 किमी, 341 करोड़

यह भी पढ़ेंः ध्यान दें: बाहरी राज्यों से आने वालों का बॉर्डर में होगा कोरोना टेस्ट, अलर्ट मोड पर सरकार..

हैलीपैड
घांघरिया, मुनस्यारी, ज्योलिकांग, गुंजी और कालापानी
कुल लागत – 77.50 करोड़
हवाई पट्टी का विस्तार
गौचर हवाई पट्टी (प्रस्तावित लंबाई 1.6 किमी, कीमत 60 करोड़)
पिथौरागढ़ (प्रस्तावित लंबाई 1.6 किमी, कीमत 60 करोड़)

यह भी पढ़ेंः सावधान मास्क नहीं पहना तो पड़ेगा भारी जुर्माना, आदेश हुआ जारी..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X