हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

जंगली जानवरों के हमले में घायल या मृत्यु होने पर मिलेंगे इतने रुपये। अब ये होंगी नई दरें, देखिए चार्ट..

0
human wildlife conflict. Hillvani News

human wildlife conflict. Hillvani News

Amendment in Human Wildlife Conflict Relief Distribution Fund Rules: वन्यजीवों के हमलों से जूझ रहे उत्तराखंड में मानव, पशु, भवन व फसल क्षति के मामलों में मुआवजा राशि में वृद्धि कर दी गई है। प्रमुख सचिव वन रमेश कुमार सुधांशु की ओर से शुक्रवार को मानव-वन्यजीव संघर्ष राहत वितरण निधि नियमावली में संशोधन की अधिसूचना जारी कर दी गई। जंगली जानवरों के हमले में मृत्यु पर अब स्वजन को छह लाख रुपये की मुआवजा राशि दी जाएगी। इसी प्रकार घायल होने समेत क्षति के अन्य मामलों में भी राशि बढ़ाई गई है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हाल में हुई समीक्षा बैठक में वन्यजीवों से होने वाली क्षति के मामलों में दी जाने वाली मुआवजा राशि में वृद्धि से संबंधित अधिसूचना शीघ्र जारी करने के निर्देश दिए थे।

यह भी पढ़ेंः 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा देने के मिलेंगे दो मौके, पढ़ें पूरी खबर..

पहले थी चार लाख, अब छह लाख की गई है। Amendment in Human Wildlife Conflict Relief Distribution Fund Rules
इसी क्रम में शुक्रवार को जारी अधिसूचना के अनुसार घटना घटित होने के 15 दिन के भीतर मुआवजा राशि उपलब्ध कराई जाएगी। मृत्यु के मामलों में स्वजन को अभी तक आपदा मोचन निधि से चार लाख रुपये की राशि दी जाती थी, जो अब छह लाख की गई है। इसमें दो लाख रुपये मानव वन्यजीव संघर्ष राहत वितरण निधि से उपलब्ध कराए जाएंगे। यह भी कहा गया है कि यदि केंद्र सरकार मुआवजा राशि में वृद्धि करती है तो भी इसमें दो लाख की अतिरिक्त राशि इसी निधि से दी जाएगी। क्षति के अन्य मामलों में भी ऐसा ही किया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः CBSE Board Exam 2024: इस दिन जारी हो सकते हैं एडमिट कार्ड, पढ़ें पूरी जानकारी..

इन वन्यजीवों से क्षति पर मिलेगा मुआवजा। Amendment in Human Wildlife Conflict Relief Distribution Fund Rules
बाघ, गुलदार, हिम तेंदुआ, जंगली हाथी, तीनों प्रकार के भालू, लकड़बग्घा, जंगली सूअर, मगरमच्छ, घडिय़ाल, सांप, मधुमक्खी, ततैया, लंगूर व बंदर।
हाथी व भालू से भवन क्षति पर भी मुआवजा। Amendment in Human Wildlife Conflict Relief Distribution Fund Rules
अधिसूचना के अनुसार जंगली हाथियों व भालू द्वारा भवनों को क्षति पहुंचाने पर भी मुआवजा राशि दी जाएगी। पहले इसका प्रविधान नहीं था।
आयुष्मान में उपचार पर नहीं मिलेगा लाभ। Amendment in Human Wildlife Conflict Relief Distribution Fund Rules
वन्यजीवों के हमले में घायल व्यक्तियों का आयुष्मान भारत योजना के तहत उपचार होने पर वे मुआवजा राशि के लिए पात्र नहीं होंगे। अधिसूचना में यह प्रविधान किया गया है।

यह भी पढ़ेंः सावधान रहें… सरकार ने जारी किया अलर्ट, बिना OTP बैंक अकाउंट हो रहा है खाली..

अब ये होंगी नई दरें। Amendment in Human Wildlife Conflict Relief Distribution Fund Rules

यह भी पढ़ेंः UKSSSC : समूह-ग के अंतर्गत व्यायाम प्रशिक्षकों के पदों पर भर्ती का विज्ञापन जारी..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X