हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇


आखिर क्यों होती है? कान पकने की समस्या। जानें कारण, लक्षण और इसके घरेलू उपचार..

कान बहना या कान पकना यूं तो बहुत सामान्य समस्या मानी जाती है और यह किसी भी उम्र में हो सकती है। कान पकने की समस्या होने पर आपके कान में दर्द, लिक्विड डिस्चार्ज, सुनाई कम देना जैसी समस्याएं हो सकती हैं। महिलाओं में कान पकने की समस्या का प्रमुख कारण कान छिदवाने की वजह से होने वाला इन्फेक्शन माना जाता है। बच्चों में भी कान पकने की समस्या बहुत ज्यादा देखी जाती है। इसके कारण उन्हें भी सुनने में परेशानी, कान में गंभीर दर्द और मवाद बहने की समस्या होती है। कान में बैक्टीरिया, फंगल इन्फेक्शन, वायरस आदि के जाने की वजह से भी यह समस्या हो सकती है। आमतौर पर लोगों में कान पकने की समस्या का प्रमुख कारण इन्फेक्शन ही माना जाता है। इस समस्या में कान से पस निकलता रहता है और गंभीर मामलों में खून भी निकल सकता है। कान पकने की समस्या के कारण और लक्षणों के बारे में जानकारी होने से आप इस समस्या से बचाव कर सकते हैं। आइये विस्तार से जानते हैं कान पकने की समस्या के कारण, लक्षण और इलाज के बारे में।

कान पकने की समस्या के कारण
बच्चों से लेकर बूढ़े लोगों तक में कान पकने की समस्या हो सकती है। इसे सामान्य समस्या माना जाता है लेकिन सही समय पर इलाज न होने की वजह से यह समस्या गंभीर रूप भी ले सकती है। कान बहने की समस्या का सबसे प्रमुख कारण वायरल या फंगल इन्फेक्शन होता है। महिलाओं में कान छिदवाने की वजह से होने वाले इन्फेक्शन के कारण भी यह समस्या हो सकती है। कान में मैल या गंदगी बैठ जाने की वजह से भी लोगों में कान पकने की समस्या हो सकती है। कान में फोड़े आदि होने पर भी इस समस्या का खतरा बना रहता है। कान बहने की समस्या के कुछ प्रमुख कारण इस प्रकार से हैं।
– कान में इन्फेक्शन।
– कान में फोड़े-फुंसी होने की वजह से।
– एलर्जी की वजह से।
– कान में किसी चीज (पानी, गंदगी या धूल मिट्टी आदि) के जाने से।
– कान में चोट लगने की वजह से।
– इअरबड्स या इयरफोन के अधिक इस्तेमाल से।
– सर्दी या जुकाम की वजह से।
-पोषक तत्वों की कमी की वजह से।
– कान की साफ-सफाई न करने से।
– स्विमिंग करने वाले लोगों को।
– दांतों में इन्फेक्शन के कारण।

कान पकने की समस्या के लक्षण
कान पकने की समस्या को कान बहने की समस्या भी कहा जाता है। इस समस्या में ज्यादातर लोगों को कान से पस निकलता है और कान में लगातार दर्द हो सकता है। कान में इन्फेक्शन के कारण कान पकने की समस्या में आपको गंभीर दर्द, पस की समस्या के साथ सुनाई देने में परेशानी का अनुभव भी हो सकता है। आमतौर पर कान पकने की समस्या में दिखने वाले प्रमुख लक्षण इस प्रकार से हैं।
– कान से पस निकलना।
– कान में गंभीर दर्द बना रहना।
– सुनाई देने में तकलीफ।
– कान में एक तरफ दर्द होना।
– कान सुन्न हो जाना।

कान बहने की समस्या का इलाज
कान बहने की समस्या में इलाज हर मरीज में अलग-अलग हो सकता है। इस समस्या में सबसे पहले डॉक्टर इसके कारणों का पता लगाते हैं और उसके बाद लक्षणों के आधार पर इलाज करते हैं। अगर मरीज को कान में गंभीर दर्द हो रहा है तो सबसे पहले दर्द को कंट्रोल करने के लिए दवाएं या ड्रॉप्स दिए जाते हैं। कुछ लोगों में कान पकने की समस्या सामान्य साफ-सफाई का ध्यान रखने से अपने आप ही ठीक हो जाती है लेकिन कुछ लोगों में यह समस्या गंभीर होने पर कई अन्य दिक्कतें पैदा कर सकती है। इसलिए अगर आपको भी कान पकने की समस्या के लक्षण दिखाई देते हैं तो सबसे पहले एक्सपर्ट डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

कान पकने की समस्या में घरेलू इलाज
कान पकने की समस्या बैक्टीरिया, वायरल और फंगल इन्फेक्शन के अलावा कान में चोट लगने, फोड़े आदि के होने से भी हो सकती है। इस समस्या में आप इन घरेलू उपायों को अपना सकते हैं। 
1- कान पकने की समस्या में आप पिपरमिंट के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। कान में इन्फेक्शन की वजह से कान पकने की समस्या में पिपरमिंट का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद माना जाता है। 
2- एप्पल साइड विनेगर को हल्का गर्म करके कान में डालने से भी इस समस्या में फायदा मिलता है।
3- लहसुन के तेल का इस्तेमाल भी इस समस्या में बहुत फायदेमंद होता है।

Disclaimer: HillVani लेख में जानकारी व सूचना को लेकर किसी तरह का दावा नहीं करता है। इस आर्टिकल में बताई गई विधि, तरीक़ों व दावों की भी पुष्टि नहीं करता है। इनको केवल सुझाव के रूप में लें। इस तरह के किसी भी उपचार / दवा / डाइट पर अमल करने से पहले चिकित्सक की सलाह अवश्य लें।




Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X