हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

प्रभु श्रीराम के आदर्शों को अपनाने की आवश्यकता है, रामायण हमे हमेशा ही सीख देती है- प्रताप रावत

उत्तरकाशी: भटवाड़ी प्रखंड के मनेरी बांध कॉलोनी में भगवान मर्यादा पुरुषोत्तम रामचंद्र की लीलाओं का मंचन किया जा रहा है। आज रामलीला के दसवें दिन बतौर मुख्य अतिथि प्रधान संगठन के प्रदेश महामंत्री प्रताप रावत पहुंचे  और साथ में अन्य जनप्रतिनिधि भी मौजूद रहे। समिति अध्यक्ष महेंद्र सिंह पंवार व पदाधिकारियों के द्वारा उनका स्वागत सम्मान किया गया और समिति द्वारा भगवान श्री राम का स्मृति चिन्ह भी उन्हें आशीर्वाद स्वरुप भेंट किया गया। इस दौरान अतिथियों ने भगवान श्री रामचंद्र की लीला एवं प्रसंगों पर मार्मिक मंचन भी देखा।

यह भी पढ़ें: पुरानी पेंशन बहाली को लेकर कल होगी विशाल रैली, कई कर्मचारी संगठन करेंगे सचिवालय घेराव..

अपने संबोधन में मुख्य अतिथि प्रताप रावत ने समस्त ग्राम वासियों को भगवान श्री रामचंद्र की लीला के मंचन हेतु शुभकामनाएं प्रेषित की और कहा कि राम और रामायण हमे हमेशा ही सीख देती है जो असल में हमको जीना सीखाती है। भगवान श्री राम ने अपने जीवन में सभी से समान और सम्यक व्यवहार रखा। न किसी को राजा समझा और न रंक। न शक्तिशाली समझा और न कमजोर। उन्होंने पशु और पक्षियों के साथ भी वैसा ही व्यवहार किया जैसे कि एक मनुष्य के साथ किया जाता है। उनका विनम्र आचरण और अपने से बड़ों और छोटों सबको सम्मान देना हम सबको एक सीख देता है। भगवान श्री रामचंद्र की लीला से हमें जीवन में बहुत कुछ सीखने को मिलता है।

यह भी पढ़ें: वायरल वीडियो: गनर या क्रिमिनल? विधायक के गनर ने लोगों से की मारपीट, धमकी भी सुने..

उन्होंने आगे कहा कि हमें व्यावहारिक जीवन में प्रभु श्रीराम के आदर्शों को अपनाने की आवश्यकता है। भाई-भाई के मतभेद की स्थिति हो, पिता-पुत्र, माता-पुत्र या पति-पत्नी के संबंध हों या शत्रु-मित्र की पहचान करने की बात। हर स्थिति में मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम के आदर्श का स्मरण हमारा मार्गदर्शन करता है। इस दौरान प्रधान बाजार गांव प्रथम सिंह नेगी, प्रधान पाटा नरेश चौहान, नीलम रमोला, जखौल रंजना नेगी, लाटा पार्वती रमोला, ओन्गी ममता नौटियाल, सैंज बीडीसी मेंबर रबीन्द्री रावत, धनीराम राणा, मनीषा देवी, महिला मंगल दल मनेरी  श्रीमती इंद्री देवी, कविता बिष्ट, प्रकाशि देवी, उषा नौटियाल, सरला रावत, रवींद्र रावत, महेन्द्र पंवार, अनोज रावत, जितेंद्र रावत, आचार्य जगदम्बा प्रसाद नौटियाल, केशव प्रसाद कँस्वाल, उपेंद्र राणा आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: देवभूमि गौरवान्वित, कर्नल अमित बिष्ट और शीतल को मिला नेशनल एडवेंचर अवार्ड..

Vote करें👉 उत्तराखंड में आप 2022 में किसकी सरकार चाहते है।

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X