हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

देहरादून : शहर में कई शोभायात्राओं का आयोजन, यातायात रहेगा प्रभावित..

0
Processions were organized in the city

Processions were organized in the city : अयोध्या में 22 जनवरी को भगवान श्रीराम की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर देहरादून शहर में कई बड़ी शोभायात्राओं का आयोजन किया जा रहा है। शोभायात्राओं के दौरान शहर में भीड़भाड़ अधिक होने के चलते अगले तीन दिन पुलिस के साथ-साथ आमजन के लिए चुनौती भरे रहेंगे। साथ ही रविवार को पयर्टक भी मसूरी और अन्य पर्यटक स्थल पहुंच सकते हैं, जिसके कारण यातायात समस्या बढ़ सकती है।

ये भी पढिए : उत्तराखंड : रोडवेज के चालक और परिचालक अब नई वर्दी में आएंगे नजर..

श्री बालाजी सेवा समिति की ओर से शहर में भव्य शोभायात्रा निकाली जा रही | Processions were organized in the city

वहीं शुक्रवार को श्री बालाजी सेवा समिति की ओर से शहर में भव्य शोभायात्रा निकाली जा रही है। शोभायात्रा शाम तीन बजे हिंदू नेशनल इंटर कालेज लक्ष्मण चौक से शुरू होकर शिवाजी धर्मशाला, सहारनपुर चौक, झंडा बाजार, पलटन बाजार, आढ़त बाजार होते हुए शिवाजी धर्मशाला में संपन्न होगी। शोभायात्रा में कई धार्मिक संगठनों से जुड़े प्रबुद्ध लोग शामिल होने जा रहे हैं। यात्रा उस समय निकलेगी जब शहर में भीड़भाड़ होती है।

इसी तरह 20 जनवरी को विभिन्न धार्मिक संगठनों की ओर से शहर में शोभायात्राएं निकाली जा रही हैं। यात्रा सुबह 10 बजे से परेड ग्राउंड से शुरू होंगी, जोकि गांधी पार्क, घंटाघर, पलटन बाजार से निकलेंगी। शोभयात्रा में हजारों की संख्या में रामभक्त उपस्थित होंगे।

शोभायात्रा में सीएम धामी कर सकते है शिरकत | Processions were organized in the city

इस शोभायात्रा में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के शिरकत करने की संभावना है। इसी तरह 21 जनवरी को राष्ट्रीय श्रीराम कृष्णा गढ़ सभा की ओर से रथयात्रा व बाइक रैली निकाली जा रही है, जोकि मालसी वाली पुलिया से सुबह 10 बजे शुरू होगी। इसके अलावा भी कई धार्मिक संगठनों ने शोभायात्रा निकालने की अनुमति के लिए पुलिस विभाग को प्रार्थनापत्र दिए हैं।

एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि देशभर में धार्मिक कार्यक्रम व शोभायात्रा आयोजित किए जा रहे हैं। एसपी सिटी व एसपी यातायात की ओर से अनुमति मांगने वाले आयोजकों से बातचीत की जा रही है।

इसके साथ ही शोभायात्रा के रूट निर्धारित किए जा रहे हैं। शोभायात्रा में भीड़ अधिक होने के चलते यातायात प्रभावित होगा, लेकिन आमजन को कम से कम परेशानी हो, इसको लेकर कई जगह रूट डायवर्ट किए जाएंगे। वहीं आयोजन के दौरान कोई टकराव की स्थिति न बनें, इसको लेकर एलआइयू लगातार निगरानी रख रही है।

ये भी पढिए : Uttarakhand : 22 जनवरी तक किसी भी तरह के धार्मिक आयोजन के लिए प्रशासन की अनुमति अनिवार्य..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X