हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

बीजेपी संसदीय बोर्ड की आज अहम बैठक, कई के काटेंगे टिकट तो कई दिग्गज होंगे इधर से उधर..

0
Hillvani-BJP-Uttarakhand

Hillvani-BJP-Uttarakhand

उत्तराखंड: भाजपा के राज्य संसदीय बोर्ड की आज यानी शनिवार को बैठक होनी है। इस बैठक में उम्मीदवारों की सूची को अंतिम रूप दिया जाएगा। सूची को अंतिम मंजूरी के लिए पार्टी केंद्रीय संसदीय बोर्ड को भेजा जाएगा। यह बैठक सुबह 11:00 बजे से बीजेपी प्रदेश कार्यालय में होगी, जिसमें विधानसभा चुनाव के लिए प्रत्याशियों के नामों पर मंथन होगा। बैठक में कोर ग्रुप में प्रत्याशियों के नामों का पैनल बनाया जाएगा। सूत्रों की माने तो हर सीट पर तीन-तीन नामों का पैनल बनाया जाएगा। कोर ग्रुप में पैनल बनने के बाद पार्टी हाईकमान को प्रत्याशियों की सूची भेजी जाएगी। आगामी 17 या 18 जनवरी को भाजपा प्रत्याशियों की पहली सूची घोषित की जा सकती है। आपको बात दे कि पार्टी को 70 विधानसभा सीटों पर 800 से ज्यादा प्रत्याशियों के नाम मिले। 

यह भी पढ़ें: टिकटों को लेकर दिल्ली में हंगामेदार रही कांग्रेस की बैठक, ये बड़े नेता आमने सामने..

आपको बता दें प्रदेश चुनाव प्रभारी काफी हद तक मंथन कर चुके हैं वहीं टिकटों की बात करें तो रिजर्व सीट राजपुर में खजान दास के टिकट पर तलवार लटकी है साथ ही विनोद चमोली के टिकट पर भी तलवार लटकी बताई जा रही है। वहीं कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल को ऋषिकेश और विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद्र अग्रवाल को धर्मपुर विधानसभा से चुनाव लड़ाने जैसे कयास भी हवा में तैर रहे हैं। अगर सुबोध उनियाल ऋषिकेश आए तो बीजेपी से ओम गोपाल रावत ही चुनाव लड़ेंगे। वहीं विकास नगर सीट में बीजेपी ने मुन्ना सिंह चौहान को ही चुनाव लड़ाने का मन बना लिया है कुलदीप कुमार को चुनाव लड़ा कर पार्टी अपनी सीट खोना नहीं चाहती है। वहीं माना जा रहा है कि बीजेपी कई सीटों पर मंथन पूरा कर चुकी है।

यह भी पढ़ें: आम आदमी पार्टी ने उम्मीदवारों की तीसरी लिस्ट जारी..

भाजपा के सूत्रों का कहना है कि कम से कम 10 से 12 मौजूदा विधायकों का टिकट कट सकता है। इन विधायकों का अपने विधानसभा क्षेत्रों में प्रदर्शन पार्टी के आंतरिक सर्वेक्षण और आकलन में कमजोर पाया गया है। सूत्रों से जानकारी मिली है कि पार्टी के आंतरिक सर्वेक्षण से पता चला है कि लगभग 10 से 12 विधायक चुनाव हार सकते हैं। इसी को देखते हुए पार्टी उन्हें इस बार टिकट नहीं देगी। सभी मंत्रियों को चुनाव में दोहराया जाएगा। पार्टी आज होने वाली राज्य संसदीय बोर्ड की बैठक में इन मुद्दों पर आगे विचार करेगी। पार्टी ऐसे उम्मीदवारों के साथ कोई जोखिम नहीं लेना चाहती और अन्य उम्मीदवारों को मौका देना चाहती है।

यह भी पढ़ें: हरक को लेकर विधायक का बयान हो रहा वायरल, आखिर क्यों? सुने क्या बोले..


Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X