Update: भारत-चीन सीमा पर लापता पोर्टरों के मिले शव, तीनों उत्तरकाशी के निवासी..

0

उत्तरकाशी: उत्तराखंड के उत्तरकाशी जनपद से लगी भारत-चीन सीमा पर तीन पोर्टरों के लापता हो गए थे। तीनों पोर्टर भारत तिब्बत सीमा पुलिस की टीम के साथ सीमा पर लंबी दूरी गश्त के लिए रवाना हुए थे, जो वापसी के दौरान रास्ता भटक गए। भारी बर्फबारी होने से बीते मंगलवार देर शाम तक भी इन पोर्टरों का कोई पता नहीं चल पाया। जिसके बाद आईटीबीपी ने इन पोर्टरों को तलाशने के लिए वायु सेना और राज्य आपदा प्रबंधन से मदद मांगी है। इस सूचना के बाद से स्थानीय पुलिस और प्रशासन में हड़कंप मच गया था। आईटीबीपी जवानों की टीमनागा और नीलापानी चौकी से भी बुधवार की सुबह 20-20 आईटीबीपी जवानों की टीम खोज और बचाव के लिए रवाना हुई थी।

यह भी पढ़ें: भारत-चीन सीमा पर 3 पोर्टर लापता, रेस्क्यू को गए 5 अन्य से भी संपर्क टूटा। पहुंचा वायु सेना हैलीकॉप्टर..

लेकिन राहत-बचाव अभियान में बर्फ रुकावट पैदा कर रहा है। यहां छह फीट बर्फ पड़ी हुई है। जानकारी के मुताबिक पोर्टरों के शव आइटीबीपी की नीला पानी चौकी से डेढ़ किलोमीटर दूर सीमा की ओर बर्फ में दबे मिले। आईटीबीपी के तीनों मृतकों पोर्टर्रो की पहचान..
1- संजय सिंह (24) पुत्र दलबीर सिंह निवासी ग्राम नाल्ड, पोस्ट ऑफिस गंगोरी उत्तरकाशी।
2- राजेंद्र सिंह (25) पुत्र बृजमोहन निवासी ग्राम (स्युना) सिरोर पोस्ट ऑफिस नेताला उत्तरकाशी।
3- दिनेश चौहान (23) पुत्र भरत सिंह चौहान निवासी ग्राम पोस्ट ऑफिस पाटा उत्तरकाशी के रूप में हुई है। तीनों पोर्टर उत्तरकाशी जनपद के रहने वाले हैं।

यह भी पढ़ें: 5 बुरी आदत छोड़ अपनाए ये 5 अच्छी आदतें, हड्डियां रहेंगी बेहद मजबूत। नहीं होगी परेशानी..


यह भी पढ़ें: अमित शाह पहुंचे देहरादून, बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का करेंगे हवाई सर्वे। पढ़ें मिनट टू मिनट कार्यक्रम..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X