हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

दुर्घटना: यहां तड़के सुबह हुआ दर्दनाक हादसा, एक ही परिवार की 3 महिलाओं की मौत..

पिथौरागढ़: उत्तराखंड के सीमांत जनपद के सीमांत क्षेत्र बेरीनाग से बड़ी दुःखद खबर आ रही है। जहां आज सुबह सुबह पिथौरागढ़ के तहसील बेरीनाग में 5:30 बजे एक बोलेरो गहरी खाई में गिर गई। इस दर्दनाक हादसे में एक ही परिवार की तीन महिलाओं की मौत हो गई है जबकि तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। यह दुर्घटना बेरीनाग मोटर मार्ग के गोदीगाड़ मंदिर के पास हुई। हादसे के वक्त बोलेरो में 6 लोग सवार थे, जिनमें से तीन की मौत हो गई है और तीन गंभीर रूप से घायल हो गए है।

यह भी पढ़ें: देश की बड़ी खबर: PM Modi की बड़ी घोषणा, तीनों किसान कानून वापस लिए, किसानों से लौटने की अपील की..

आज तड़के सुबह 5:30 बजे थाना बेरीनाग को सूचना मिली कि गोदीगाड़ पुल के पास हल्द्वानी से थल आ रही एक बोलेरो गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गई है। इस सूचना पर थानाध्यक्ष प्रताप सिंह नेगी फोर्स सहित मौके पर पहुंचे और तत्काल सभी घायलों तथा चालक को निकाल कर एंबुलेंस तथा थाने के सरकारी वाहन से घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया गया।

यह भी पढ़ें: Chandra Grahan 2021: आज साल का आखिरी चंद्र ग्रहण, इन बातों का रखें विशेष ध्यान। क्या करें और क्या नहीं..

मृतकों की पहचान रश्मि चंद (22) पत्नी ब्रजेश चंद, गीता चंद (23) पत्नी सरयू हरीश चंद और प्रियंका चंद ( 20 ) पत्नी भगवान चंद निवासी लेजम कोली थाना थल के रूप में हुई है। वहीं चालक अनिल कन्याल (27), चंदन सिंह सामंत पुत्र देव सिंह गौला कुड़ी निवासी तड़ीगांव थल और बृजेश चंद पुत्र भावेश चंद निवासी लेजम थाना थल घायल हो गए। घायलों का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेरीनाग में उपचार किया जा रहा है। घायलों की हालत गंभीर बनी हुई है।

यह भी पढ़ें: Health Tips: सेहत के लिए जरूरी है अच्छी नींद, जानें किस उम्र में कितने घंटे की नींद है जरूरी

थानाध्यक्ष प्रताप सिंह नेगी ने बताया कि, सुबह हादसे की सूचना मिली थी। पुलिस टीम ने सभी को खाई से बाहर निकाला और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेरीनाग में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने तीन को मृत घोषित कर दिया। मृतक तीनों महिलाएं आपस में जेठानी, देवरानी और साली है। अस्पताल में चिकित्सक द्वारा उपरोक्त तीनों महिलाओं को मृत घोषित कर दिया गया है। घायलों का इलाज चल रहा है।

यह भी पढ़ें: चिंताजनक: कुछ सालों से सोशल मीडिया में फैलती अफवाह, सिरफिरों के हाथों का बनता उस्तरा..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X