हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

धार्मिकः तुंगनाथ घाटी का वातावरण हुआ भक्तिमय, भक्तों के आवागमन में लगातार हो रहा इजाफा..

The atmosphere of Tungnath valley became devotional hillvani news

The atmosphere of Tungnath valley became devotional hillvani news

ऊखीमठ। लक्ष्मण नेगीः पंच केदारो में तृतीय के केदार के नाम से विश्व विख्यात भगवान तुंगनाथ के शीतकालीन गद्दी स्थल मर्कटेश्वर तीर्थ मक्कूमठ में श्री बद्रीनाथ केदारनाथ मन्दिर समिति व ग्राम पंचायत मक्कूमठ तथा पावजगपुडा़ के सयुक्त तत्वावधान में 18 वर्षों बाद आयोजित महायज्ञ व महा शिवपुराण कथा में प्रतिदिन सैकड़ों श्रद्धालु शामिल होकर पुण्य अर्जित कर रहे हैं। महायज्ञ व महा शिवपुराण के आयोजन से तुंगनाथ घाटी सहित मक्कूमठ का वातावरण भक्तिमय बना हुआ है। महायज्ञ में विभिन्न गांवों दस्तूरधारी विद्वान आचार्यों द्वारा अहम योगदान दिया जा रहा है। धियाणियों व प्रवासियों के तुंगनाथ घाटी की ओर रख करने से गांवों की चौपालो में रौनक लौटने लगी है। 11 दिवसीय महायज्ञ व शिव महापुराण में 1 मई को भव्य जल कलश यात्रा निकालने के साथ ही 2 मई को पूर्णीहूति के साथ 11 दिवसीय धार्मिक अनुष्ठान का समापन होगा।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः हफ्तेभर और झेलना होगा बिजली संकट, जानें मांग-सप्लाई..

जानकारी देते हुए श्री बद्रीनाथ मन्दिर समिति अध्यक्ष अजेन्द्र अजय ने बताया कि भगवान तुंगनाथ के शीतकालीन गद्दी स्थल मर्कटेश्वर तीर्थ मक्कूमठ में आयोजित महायज्ञ व शिव महापुराण कथा के आयोजन से तुंगनाथ घाटी का वातावरण भक्तिमय बना हुआ है तथा विद्वान आचार्यों द्वारा प्रतिदिन हवन कुण्ड में आहूतियां डालकर विश्व शान्ति व समृद्धि की कामना की जा रही है। उन्होंने बताया कि 18 वर्षों बाद आयोजित महायज्ञ व शिव महापुराण कथा के आयोजन से क्षेत्रीय जनता में भारी उत्साह बना हुआ है। दिवारा यात्रा समिति अध्यक्ष भूपेन्द्र मैठाणी ने बताया कि विद्वान आचार्यों के वैदिक मंत्रोच्चारण से तुंगनाथ घाटी सहित मक्कूमठ का वातावरण इन दिनों भक्तिमय बना हुआ है तथा प्रतिदिन सैकड़ों श्रद्धालु शिव महापुराण कथा श्रवण कर पुण्य अर्जित कर रहे है। मठापति राम प्रसाद मैठाणी ने बताया कि महायज्ञ व शिव महापुराण कथा में धीरे-धीरे भक्तों के आवागमन में इजाफा हो रहा है तथा तुंगनाथ घाटी में रौनक बनी हुई है।

यह भी पढ़ेंः आरोपः CM आवास कूच के दौरान पुलिसकर्मी ने गर्भवती महिला कर्मचारी के पेट पर रखा पैर, महिला की तबीयत बिगड़ी…

महायज्ञ प्रभारी प्रकाश पुरोहित ने बताया कि विभिन्न गांवों के लगभग 7 दर्जन विद्वान आचार्यों द्वारा महायज्ञ में अहम योगदान दिया जा रहा है तथा कथावाचक आचार्य लम्बोदर प्रसाद मैठाणी द्वारा शिवपुराण कथा की महिमा का गुणगान किया जा रहा है। प्रबन्धक बलवीर सिंह नेगी ने बताया कि महायज्ञ व शिव महापुराण कथा के आयोजन से तुंगनाथ घाटी के जनमानस में भारी उत्साह बना हुआ है तथा महायज्ञ के सफल संचालन के लिए विभिन्न क्षेत्रों के भक्तों द्वारा अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किये जा रहे है। पंच पुरोहित अध्यक्ष रिवाधर मैठाणी ने बताया कि 1 मई को आयोजित होने वाली भव्य जल कलश यात्रा की तैयारियां जोरों पर है। प्रधान मक्कू विजयपाल नेगी पावजगपुडा अरविन्द रावत ने बताया कि महायज्ञ में प्रतिदिन विद्वान आचार्यों के वैदिक मंत्रोच्चारण से तुंगनाथ घाटी गुजायमान बनी हुई है।

यह भी पढ़ेंः इन राशियों पर रहेगी राहु की कृपा, मिलेगी अपार सफलता। क्या लिस्ट में शामिल है आपकी राशि?

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X