हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

साल के पहले दिन हुआ बाद हादसा.. मची भगदड़, कई की मौत..

नया साल लोग खुशियों के साथ मनाना चाहते हैं। अधिकांश लोग साल के पहले दिन मंदिर पहुंचते हैं। इसलिए साल के पहले लाखों लोग माता वैष्णो देवी के दरबार भी पहुंचते हैं, लेकिन शनिवार को साल का पहला दिन यहां के कई लोगों के लिए काल बन गया। भीड़ में अचानक मची भगदड़ ने 12 लोगों की जान ले ली। वहीं 13 अन्य लोग घायल हैं जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसा भीड़ में दो लोगों की आपसी बहस के बाद हुआ। मामले को लेकर जम्मू कश्मीर के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने बताया है कि शुरुआती जानकारी के मुताबिक कुछ लोगों में बहस हुई जिससे लोग आपस में धक्का मुक्की करने लगे, और भगदड़ मच गई. घटना रात 2:45 बजे की बताई जा रही है।

कहासुनी के बाद हुई भगदड़!
यहां दो लोगों के बीच किसी बात को लेकर बहस हो गई। बहस इतनी बढ़ी कि एक शख्स ने दूसरे को धक्का दे दिया। उसके बाद लोगों में भगदड़ मच गई और कई लोग पैरों के नीचे कुचल गए। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो यहां भीड़ इतनी ज्यादा थी कि उसे काबू करने के लिए कुछ लोगों को किनारे किया गया। किसी ने एक को किनारे करने के लिए धक्का दिया और लोगों में भगदड़ हो गई।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: साल की आखिरी कैबिनेट बैठक में हुए ये फैसले..

सुरक्षा और नियमों के कोई पुख्ता इंतजाम नहीं
वहीं मौके पर मौजूद कुछ श्रद्धालुओं ने कहा कि लगभग ढाई-तीन लाख लोगों की भीड़ थी। आने और जाने वाली लाइन अलग नहीं की गई थी। कोई नियम नहीं था। भीड़ इतनी ज्यादा हो गई कि लोगों के बीच धक्का-मुक्की होने लगी। लोग एक-दूसरे पर गिरने लगे और अपनों को बचाने के लिए लोग दौड पड़े। इसी में भगदड़ मच गई। दर्शन के लिए पहुंचे लोगों में कई ऐसे थे जिन्होंने बताया कि वह हर साल दर्शन के लिए आते हैं बीते दो साल से कोरोना के चलते दर्शन करने नहीं आए थे। कभी इतनी भीड़ नहीं हुई लेकिन इस बार इतनी भीड़ थी कि लोग एक दूसरे पर गिरे पड़ रहे थे। इसका बड़ा कारण यही थी कि बीते दो वर्षों से कोरोना के चलते लोग दर्शन करने नहीं पहुंच पाए थे।

यह भी पढ़ें: पूर्व विधायक का दो दिवसीय क्षेत्र भ्रमण, जुटाया समर्थन। भाजपा पर साधा निशाना..

प्रधानमंत्री ने घटना पर दुख जताया
इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना पर दुख जताते हुए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से मृतकों को 2 लाख और घायलों को 50 हजार रुपये के मुआवजे की घोषणा की है। बताया जा रहा है कि मरने वाले लोग यूपी और हरियाणा के रहने वाले हैं।
राज्य की ओर से भी मुआवजा
जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को 10 लाख का मुआवजा देने का एलान किया है। वहीं, घायलों के इलाज के लिए 2 हजार रुपए दिए जाएंगे।

1/5 - (1 vote)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X