उत्तराखंड के इन छात्रों को मिलेगी UPSC-SSC निशुल्क कोचिंग, स्टाइपेंड भी देगी सरकार..

0
Uttarakhand-coaching-Hillvani-News

Uttarakhand-coaching-Hillvani-News

केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता मंत्रालय की योजना के तहत अनुसूचित जाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के होनहारों को गढ़वाल केंद्रीय विश्वविद्यालय में यूपीएससी, एसएससी की निशुल्क कोचिंग दी जाएगी। इसके लिए सितंबर के आखिरी सप्ताह में कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (सीईटी) होगा, जिसकी ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया गढ़वाल विवि ने शुरू कर दी है। चुने गए छात्रों को हर महीने केंद्रीय मंत्रालय से चार हजार रुपये स्टाइपेंड मिलेगा। मुख्य परीक्षा स्तर तक चुने जाने पर एकमुश्त 15 हजार रुपये मिलेंगे। गढ़वाल विवि की ओर से जारी जानकारी के मुताबिक, इस योजना के तहत एससी, ओबीसी के छात्रों को यूपीएससी सिविल सेवा सहित अन्य परीक्षा, एसएससी की परीक्षा और राज्य की सिविल सेवा परीक्षा की मुफ्त कोचिंग दी जाएगी।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंड विधानसभा का मानसून सत्र 5 सितंबर से होगा शुरू, अनुपूरक बजट होगा पेश..

एक साल होगी कोचिंग कोर्स की अवधि
कुल 100 सीटें हैं, जिनमें से 70 सीटें एससी और 30 सीटें ओबीसी छात्रों के लिए आरक्षित हैं। दोनों में 33 प्रतिशत सीटें छात्राओं के लिए आरक्षित होंगी। चुने जाने वालों से कोर्स फीस ली जाएगी, लेकिन बाद में केंद्रीय मंत्रालय की ओर से पूरी रिफंड कर दी जाएगी। अगर कोई छात्र लगातार चार दिन तक बिना वाजिब कारण बताए क्लासेज से गैरहाजिर हो जाएगा तो उसे योजना से बाहर कर दिया जाएगा। हर छात्र की आधार बेस्ड बायोमीट्रिक हाजिरी लगेगी, जिसकी रिपोर्ट हर महीने गढ़वाल विवि की ओर से मंत्रालय को भेजी जाएगी। कोचिंग कोर्स की अवधि एक साल होगी और एसएससी के कोचिंग कोर्स की अवधि छह से नौ महीने की होगी। सीईटी परीक्षा के लिए श्रीनगर, देहरादून और रुड़की में केंद्र बनाए जाएंगे।

यह भी पढ़ेंः HPCL में मैकेनिकल इंजीनियर सहित अन्य के 276 पदों पर निकली भर्ती, पढ़ें पूरी जानकारी..

ये पात्रता जरूरी
आवेदक ओबीसी या एससी श्रेणी का हो। उसके परिवार की वार्षिक आय आठ लाख रुपये से अधिक न हो। स्नातक में कम से कम 50 प्रतिशत अंक हासिल किए हों। दाखिले के लिए सीईटी पास होना जरूरी है।
100 अंकों की होगी परीक्षा
निशुल्क कोचिंग के लिए 100 अंकों की परीक्षा होगी, जिसमें बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाएंगे। सही जवाब देने पर दो अंक मिलेंगे जबकि चार गलत जवाब देने पर एक अंक काट लिया जाएगा। आवेदकों से जनरल इंग्लिश, जनरल हिंदी, हिस्ट्री, पॉलिटी, इकोनॉमी, कल्चर, जियोग्राफी, जनरल साइंस एंड एनवायरमेंट, रीजनिंग व मेंटल एबिलिटी से सवाल पूछे जाएंगे।

यह भी पढ़ेंः CAG में 1773 पदों पर निकली भर्ती, 17 सितंबर तक करें आवेदन। पढ़ें पूरी जानकारी..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X