हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

उत्तराखंडः भारत-चीन सीमा पर वीरगति को प्राप्त हुए राइफलमैन शैलेंद्र। घर का था इकलौता चिराग, परिवार में मातम..

0
Rifleman-Shailendra.-Hillvani-News

Rifleman-Shailendra.-Hillvani-News

उत्तराखंड में उत्तकाशी के कुमराड़ा गांव निवासी भारतीय सेना की गढ़वाल स्काउट में राइफलमैन शैलेंद्र सिंह कठैत ड्यूटी के दौरान वीरगति को प्राप्त हो गए। उनके बलिदान की सूचना से गांव व क्षेत्र में शोक की लहर है। बुधवार को बलिदानी राइफलमैन शैलेंद्र का पार्थिव शरीर गांव लाया जाएगा। जहां पैतृक घाट पर सैन्य सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार होगा।

यह भी पढ़ेंः देहरादून : शहर में गुलदार दिखने की सूचना से हरकत में आई पुलिस, लाउडस्पीकर से लोगों को किया अलर्ट..

जानकारी के अनुसार, भारत-चीन सीमा के नीति घाटी की गोल्डुंग पोस्ट में तैनात राइफलमैन शैलेंद्र सिंह कठैत गत दिवस अपने साथियों के साथ गश्त कर रहे थे, इस दौरान ड्यूटी के दौरान वह वीरगति को प्राप्त हो गए। शैलेंद्र घर का इकलौता चिराग था। उसकी दो छोटी बहने हैं। दो माह पहले ही उसके पिता कृपाल सिंह कठैत के निधन पर वह घर आए थे। यहां पिता का अंतिम संस्कार कर ड्यूटी पर लौटा थे। उनके बलिदान से उसकी पत्नी अंजू और मां ध्यान देई का रो-रोकर बुरा हाल है। शैलेंद्र की पांच और एक वर्ष की दो छोटी बेटियां हैं।

यह भी पढ़ेंः पिथौरागढ़: शव यात्रा के दौरान अलग अलग जगहों पर दो बड़े हादसे..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X