हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

मातबर सिंह कंडारी लगातार कर रहे जनसंपर्क कार्यक्रम, जनता से मिल रहा अथाह समर्थन

रुद्रप्रयाग: उत्तराखंड विधानसभा चुनाव का काउंटडाउन अब शुरू हो गया है और सभी पार्टियां मैदान में उतर चुकी है। पूरे प्रदेश में हर जगह चुनावी रैलियां की जा रही है। सभी प्रत्याशी गांव-गांव और घर-घर जाकर लोगों का समर्थन मांग रहे है। रूद्रप्रयाग विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी मातबर सिंह कंडारी भी पूरे जोश और उत्साह के साथ चुनाव प्रचार कर रहे है। रूद्रप्रयाग की पूर्व जिला अध्यक्ष लक्ष्मी सिंह राणा और कांग्रेस सेवादल के उपाध्यक्ष अंकुर रौथाण का पूर्ण समर्थन मातबर सिंह कंडारी को मिल रहा है।

कांग्रेस पार्टी से दावेदारी पेश करने के बावजूद टिकट ना मिलने पर मातबर सिंह कंडारी ने निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ने का एलान किया। कंडारी जी का कहना है कि वह किसी बगावती, धोखेबाज, भ्रष्टाचारी और दिशाहीन व्यक्ति को रूद्रप्रयाग की कमान नहीं सौंपना चाहते। एमएस कंडारी ने अपना पूरा जीवन रूद्रप्रयाग की जनता की सेवा को समर्पित किया है और इसीलिए रूद्रप्रयाग में जनता के बीच ईमानदार छवि के रूप में उनकी पहचान बनी हुई है।

जनसंपर्क कार्यक्रम के दौरान मातबर सिंह कंडारी ने बुधवार को रूद्रप्रयाग विधानसभा के अंतर्गत जखोली ब्लॉक, बच्छवाड़, चौरा, पौंठी, जखवाड़ी मल्ली, जखवाड़ी तल्ली, सन, कोट बांगर, खलियांण, धारकुडी, गैंठाणा, बधाणी, पुजारगांव, सिरवाडी़, पुलन तल्ला मल्ला, चोपड़ा, कुरछोला तल्ला मल्ला आदि क्षेत्रों का भ्रमण कर जनता से समर्थन मांगा। एम.एस. कंडारी ने बताया कि लोगों ने उनके पर भरोसा दिखाते हुए संकल्प लिया कि वे रूद्रप्रयाग के बेहतर विकास के लिए 14 फरवरी को अंगूठी के सामने (11 नंबर) का बटन दबाकर मतदान अवश्य करेंगे।

मातबर सिंह कंडारी ने कहा, “प्रत्येक स्थान पर अथाह जनसमर्थन मुझे प्राप्त हो रहा है। जनसंपर्क के दौरान आप सभी के द्वारा दिए गए स्नेह के लिए मैं सादर आभार व्यक्त करता हूं। उत्तराखंड विधानसभा चुनाव को लेकर जनता में जोश और उत्साह साफ नज़र आ रहा है। रूद्रप्रयाग विधानसभा में जल्द ही विकास के नए सूर्य का उदय होने वाला है। आपके सहयोग से इस बार रूद्रप्रयाग में जनविरोधी भाजपा और कांग्रेस पार्टी की पराजय सुनिश्चित है।”

निर्दलीय प्रत्याशी मातबर सिंह कंडारी के साथ जनसंपर्क कार्यक्रम में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष लक्ष्मी राणा, अंकुर रौथाण, ठाकुर गजेंद्र पंवार, विशाल रावत, कपूर कंडारी, राजेंद्र कंडारी, संजय रौथाण, डॉ. अंकित नेगी, बजरंग रावत, चैन सिंह पंवार, धनपाल नेगी, संजय राणा, शिशुपाल पंवार, संदीप शाह, सुशील शाह, विशाल कंडारी, अक्की पंवार, जसपाल लाल, राजवीर कंडारी, उम्मेद सिंह राणा, नरेंद्र चौहान, सुमन नेगी, विजय राणा और रमेश राणा आदि उपस्थित रहे।

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X