हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

Crime: पति ने की पत्नी की धारदार हथियार से हत्या, कहासुनी बनी हत्या की वजह

0
Hillvani-Crime-Uttarakhand

Hillvani-Crime-Uttarakhand

उत्तरकाशी: पहाड़ की शांत वादियों में महिलाओं से जुड़े अपराधों का ग्राफ तेजी से बढ़ा है। इनमें हत्या, बलात्कार, दहेज हत्या, एसिड अटैक जैसी घटनाएं मुख्य हैं। पहाड़ों की शांत वादियों में अपराधों की यह गूंज न सिर्फ अप्रत्याशित है बल्कि व्यवस्था के लिए भी बड़ी चुनौती बनती दिख रही है। बेहद हैरानी की बात है कि देवभूमि उत्तराखंड में महिलाओं के खिलाफ हिंसा और अपराध के आंकड़े लगातार बढ़ते जा रहे हैं,  हर साल महिलाओं पर अपराधों की संख्या में इजाफा हो रहा है। इनमें से ज्यादातर आपराधिक वारदातें मैदानी क्षेत्रों से सामने आते थे लेकिन मौजूदा स्थिति देखी जाए तो पर्वतीय क्षेत्रों में भी इस तरह घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही हैं।

Also Read- फेस्टिवल सीजन: खाद्य सुरक्षा विभाग छापामारी में जुटा। कई सेंपल फेल, 20 मुकदमें दर्ज…

वहीं उत्तरकाशी में पुरोला के गुन्दियांट गांव क्षेत्र के रौन गांव में एक खबर सामने आ रही है जहां एक नेपाली मूल के व्यक्ति ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी। राजस्व पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। मृतक का पंचनामा कर शव पोस्टमार्टम के लिए नौगांव भेज दिया है। राजस्व उप निरीक्षक ने बताया कि नेपाली मूल का हरीश रावल अपनी पत्नी दिलमाला उम्र 45 वर्ष और पांच वर्षीय बेटी के साथ रौन गांव के किसांई तोक में दिनेश प्रसाद के बागीचे में गत पांच वर्षों से रह रहा था। शनिवार शाम को दोनों में किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई।

Also Read- दुःखद खबर: उत्तराखंड का बेटा देश के लिए शहीद, देश प्रदेश में शोक की लहर..

कहासुनी के दौरान हरीश रावल ने अपनी पत्नी के सिर पर किसी धारदार हथियार से वार कर दिया, जिससे पत्नी की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। उन्होंने बताया कि दोनों पति पत्नी नशा करते थे। इस घटना की सूचना पुलिस को दिनेश प्रसाद ने मोबाइल से दी। बताया कि मृतक दिलमाला का पंचनामा कर शव पोस्टमार्टम हेतु नौगांव भेज दिया है। आरोपी हरीश रावल के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर उसको गिरफ्तार कर दिया गया है। आरोपी को सोमवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा

5/5 - (1 vote)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X