हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

उत्तराखंड में कोरोना का कहर, आज मिले सबसे ज्यादा मामले। 3 संक्रमितों की मौत..

उत्तराखंड: एक बार फिर कोरोना के आंकड़े डराने लग गए हैं। उत्तराखंड में कोरोना की तीसरी लहर का असर दिखने लगा है। मैदानी जिलों के साथ-साथ पर्वतीय जिलों में भी संक्रमण की रफ्तार तेजी से बढ़ी रही है। प्रदेश में कोरोना वायरस का खतरा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। कोरोना के मामले राज्य में तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। आज भी सबसे ज्यादा मामले देहरादून में आए हैं। वहीं हरिद्वार, नैनीताल और पौड़ी के भी हालात खराब होते जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें: जल्द हो सकता है चुनाव की तारीखों का ऐलान, ऑनलाइन चुनाव और वर्चुअली हो सकती हैं रैलियां

उत्तराखंड में एक बार फिर से कोरोना विस्फोट हुआ है। आज बीते दिन बुधवार से भी ज्यादा कोरोना के मामले सामने आए हैं। बता दें कि आज 24 घंटे में 630 मामले सामने आए हैं। पिछले 24 घंटे में 3 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। आपको बता दें कि आज 128 कोरोना के मरीज ठीक होकर घर लौटे हैं। बीते 24 घंटे में कोरोना के 630 मामले सामने आने के बाद राज्य में अब कोरोना के 1425 एक्टिव केस रह गए हैं।

यह भी पढ़ें: भारतीय महिला क्रिकेट टीम का एलान, इन खिलाड़ियों को मिली जगह..

स्वास्थ्य विभाग के हेल्थ बुलेटिन के अनुसार आज अल्मोड़ा में 18, बागेश्वर में 1, चमोली में 5, चंपावत में 8, देहरादून में 268, हरिद्वार में 119, नैनीताल में 85, पौड़ी गढ़वाल में 72, पिथौरागढ़ में 4, रूद्रप्रयाग में 0, टिहरी गढ़वाल में 4, उधम सिंह नगर में 35, उत्तरकाशी में 11 मामले सामने आए हैं जिसके बाद प्रदेश में कुल मरीजों का आंकड़ा 347098 तक पहुंच गया है। वहीं प्रदेश में अब तक कुल 7423 कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है।

यह भी पढ़ें: मौसम विभाग ने जारी किया इन जिलों में येलो अलर्ट!

आपको बता दें कि बीते दिन भी राज्य में 505 कोरोना के मामले मिले थे। राज्य में लगातार पिछले कुछ दिनों से तेजी से कोरोना केस बढ़ रहे हैं। इसके चलते सरकार अब सख्त पाबंदियां लगा रही है। देहरादून में अब बिना मास्क घर से निकलने पर चालान काटा जाएगा। राज्य सरकार ने तमाम जिलाधिकायों को सख्ती से कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराने के निर्देश दे दिए हैं। हिलवाणी भी सभी से अनुरोध करता है कि सतर्कता बरतें, सावधान रहें और सरकार द्वारा जारी की गई गाइड लाइन का पालन करें।

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X