हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

कोरोना और ओमीक्रोन ने बढ़ाई चिंता, अगले आदेश तक शिक्षण संस्थान भी बंद..

उत्तराखंड: प्रदेश में कोरोना संक्रमण के साथ ही नए वैरिएंट ओमिक्रोन ने भी चिंता बढ़ा दी है। आज प्रदेश में ओमीक्रोन के 85 नए मामले सामने आए हैं। अब तक प्रदेश में कुल ओमिक्रोन के 93 मामले हो चुके हैं। कोरोना के साथ ही ओमीक्रोन वेरिएंट के बढ़ते मामलों से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। उत्तराखंड में कोरोना वायरस संक्रमण का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। ऐसे में अब नए वैरिएंट ओमिक्रोन के चढ़ते ग्राफ ने और मुश्किलें बढ़ा दी है। जानकारी के अनुसार कोरोना पॉजिटिव पाए गए मरीजों की जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए सैंपल भेजे गए थे। कुल 2255 सैंपल में से अबतक 159 मरीजों की रिपोर्ट मिल चुकी है, जिसमें 85 मरीजों में ओमीक्रोन वेरिएंट पाया गया है। स्वास्थ्य विभाग की मानें तो करीब 54% मरीजों की रिपोर्ट में ओमीक्रोन की पुष्टि हो रही है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के चुनावी रण में महिला योद्धाओं की कितनी हिस्सेदारी..

उत्तराखंड में कोरोना के आज मिले 2682 नए मामले
उत्तराखंड में कोरोना के दैनिक मामलों में आज थोड़ी कमी आई गई है, बीते शनिवार के 3848 कोरोना पॉजीटिव मरीजों के मुकाबले आज राज्य मे 2682 नए मरीज सामने आए हैं। राज्य मे ये 328 मरीज रिकवर हुए। इसी के साथ अब एक्टिव केस 17223 हो गए हैं। राज्य में आज कोरोना से कोई मौत नहीं हुई। वहीं अब सैंपल पॉजीटिविटी रेट बढ़कर 13.71 फीसदी हो गई है। जबकि रिकवरी घटकर 91.33 फीसदी हो गई है। राज्य के 13 जिलों में संक्रमण की बात करें तो राजधानी देहरादून मे हालात भयावह होते जा रहे हैं। जबकि राहत की बात यह है कि चंपावत में आज एक भी कोरोना पॉजीटिव केस नहीं मिला है। उत्तराखंड स्टेट कंट्रोल रूम कोविड-19 के 6:00 बजे के स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार आज सबसे अधिक मामले देहरादून में 1331 मिले फिर हरिद्वार में 351, यूएसनगर में 281, नैनीताल में 188, पौड़ी में 159 मिले हैं जबकि टिहरी में 79, अल्मोड़ा में 74, बागेश्वर में 71, पिथौरागढ़ में 69, चमोली में 35, उत्तरकाशी में 31, रुद्रप्रयाग में 13 नए पॉजीटिव केस मिले हैं।

यह भी पढ़ें: RTI में खुलासा, CM धामी ने इन दो विज्ञापनों पर कर डाले 80 करोड़ खर्च..

स्कूल अगले आदेश तक रहेंगे बंद, आदेश जारी
देश भर में कोरोना महामारी का प्रकोप एक बार फिर से बढ़ने लगा है। कई राज्यों में कोरोना के मामलों में लगातार वृद्धि देखने को मिल रही है। वहीं तेजी से बढ़ रहे कोविड-19 और ओमिक्रॉन के इन मामलों ने देश में एक बार फिर से लॉकडाउन की चर्चाओं को हवा दे दी है। कई राज्यों ने रात्रि कर्फ्यू की भी घोषणा कर दी है। उत्तराखंड सरकार पहले ही नाईट कर्फ्यू लगा दिया है। वहीं प्रदेश के कई स्कूलों में भी कोरोना विस्फोट के मामले सामने आए हैं। इस कारण से कई राज्यों में स्कूलों का बंद होना भी शुरू हो गया है। उत्तराखंड सरकार ने कोरोना के खतरे को देखते हुए राज्य के सभी शिक्षण संस्थानों (शासकीय / अशासकीय (सहायता प्राप्त ) / निजी शिक्षण संस्थान) को अगले आदेश तक बंद करने का फैसला किया है।


Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X