हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

CM धामी का बड़ा फैसला! लंबित परीक्षाओं को लेकर कैबिनेट में आएगा प्रस्ताव, 9 सितंबर को होगी बैठक..

Big decision of CM Dhami. Hillvani News

Big decision of CM Dhami. Hillvani News

उत्तराखंड में लोक सेवा आयोग, उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग या किसी अन्य संस्था द्वारा निर्धारित मापदंड के आधार पर लंबित परीक्षाओं के संचालन का प्रस्ताव जल्द ही कैबिनेट बैठक में लाया जाएगा। साथ ही रिक्त पदों को जल्द भरने के लिए अभियान चलाया जाएगा। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेश के युवाओं को आश्वस्त किया है कि प्रतियोगी परीक्षाओं में कोई विलम्ब न हो इसके लिए लम्बित परीक्षाओं का आयोजन UKSSSC की अर्हताओं के आधार पर लोक सेवा आयोग या अन्य संस्था द्वारा कराए जाने के संबंध में जल्द कैबिनेट में प्रस्ताव लाया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः पहाड़ में छोटे उद्योगों को बढ़ाना जरूरी! निवेशक हमारे ब्रांड एम्बेसडर- मुख्यमंत्री धामी

मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि UKSSSC मामले की जांच जारी है व विधानसभा में हुई नियुक्तियों के सम्बंध में उच्च स्तरीय समिति जाँच कर रही है। सरकार युवाओं के हितों को लेकर सजग है, जो दोषी हैं उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई जारी है। जल्द रिक्त पदों को भरने का अभियान चलाया जाएगा। मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि राज्य सरकार zero tolerance on corruption की नीति से कोई समझौता नहीं करेगी। सरकार युवाओं की आशाओं और अपेक्षाओं के अनुसार इन सभी मामलों में कड़ी कार्रवाई करेगी। किसी भी मेहनतकश युवा के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि हम एक नजीर बनाना चाहते हैं ताकि ऐसी घटनाओं की पुनरावृति न हो, क्योंकि हमें अपने बेटे-बेटियों की चिंता है, उनके वर्तमान एवं भविष्य का सवाल है। प्रदेश में भर्ती प्रक्रियाओं का ऐसा सिस्टम बनाना होगा, ताकि भविष्य में कोई इस तरह का सोच भी न सके।

यह भी पढ़ेंः भू-कानूनः अधिक भूमि खरीद पर लगे रोक, उद्योग, पर्यटन, शिक्षण संस्थान के हों मानक। पढ़ें पूरी सिफारिशें..

नौ सितंबर को होगी मंत्रिमंडल की बैठक
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में नौ सितंबर को मंत्रिमंडल की बैठक होगी, जिसमें चर्चा के बाद कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों पर मुहर लग सकती है। सचिवालय के विश्वकर्मा भवन स्थित वीरचंद्र सिंह गढ़वाली सभागार में होने वाली कैबिनेट बैठक में विभिन्न विभागों की योजनाओं, सेवा नियमावली, नीतियों में संशोधन से संबंधित प्रस्तावों को मंजूरी मिलने की संभावना है।

यह भी पढ़ेंः क्या आप जानते हैं BIS हेलमेट का नियम? जिसकी वजह से कट रहा 1000 रुपए का एक्स्ट्रा चालान..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X