हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

Cricket: BCCI का बड़ा ऐलान, ‘द वॉल’ नाम से मशहूर द्रविड़ बने टीम इंडिया के मुख्य कोच..

बीसीसीआई की ओर से बड़ी खबर सामने आई है। पूर्व क्रिकेटर राहुल द्रविड़ को टीम इंडिया का हेड कोच नियुक्त कर दिया गया है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने बुधवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी कर इस बात की घोषणा की। इसके साथ ही भारतीय टीम के हेड कोच को लेकर चल रही तमाम कायसों पर विराम लग गया है। आपको बता दें कि टी-20 वर्ल्ड कप के बाद मौजूदा कोच रवि शास्त्री का कार्यकाल खत्म हो जाएगा, उनके सहयोगी स्टाफ का भी कार्यकाल खत्म होगा। ऐसे में टी-20 वर्ल्डकप के तुरंत बाद होने वाली न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में राहुल द्रविड़ ही टीम इंडिया के हेड कोच होंगे।

साथ ही आपको बता दें कि बीसीसीआई द्वारा लंबे वक्त से राहुल द्रविड़ के साथ बात की जा रही थी, लेकिन राहुल ने पहले इस पद को स्वीकारने से इनकार किया था। हालांकि, कुछ वक्त पहले यूएई में हुई एक मीटिंग के बाद राहुल द्रविड़ ने मुख्य कोच के पद के लिए अप्लाई किया और अब उन्हें टीम इंडिया का मुख्य कोच नियुक्त कर दिया गया है। अब रवि शास्त्री का युग खत्म हो जाएगा और द्रविड़ का शुरू होगा। वह 2023 तक टीम कोच बने रहेंगे। राहुल को महिला क्रिकेट टीम की पूर्व विकेटकीपर सुलक्षणा नाइक और पूर्व तेज गेंदबाज रुद्र प्रताप सिंह की क्रिकेट सलाहकार समिति ने बुधवार को सर्वसम्मति से मुख्य कोच नियुक्त किया।

यह भी पढ़ें: Crime: छोटी दीवाली के दिन पाटल से युवक की हत्या। आरोपी फरार, क्षेत्र में हड़कंप..

बोर्ड ने शास्त्री की तारीफ करते हुए लिखा कि उनके नेतृत्व में भारतीय क्रिकेट टीम ने देश और विदेश दोनों जगह दमदार प्रदर्शन किया। भारत टेस्ट प्रारूप में टॉप पर पहुंचा और इंग्लैंड में खेले गए विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप-2021 के फाइनल में जगह बनाई थी। उनकी कोचिंग में भारत ऑस्ट्रेलिया (2018-19) में टेस्ट सीरीज जीतने वाली पहली एशियाई टीम बन गई, जबकि इसके बाद 2020-21 में एक और सीरीज जीती। भारत द्विपक्षीय श्रृंखला में सभी 5 T20 जीतने वाली पहली टीम भी थी जब उसने न्यूजीलैंड को 5-0 से हराया था। इसके अलावा भारत ने घर पर अपनी सभी सात टेस्ट सीरीजें जीतीं।

वहीं दूसरी ओर बोर्ड के प्रमुख सौरभ गांगुली ने राहुल की नियुक्ति का स्वागत किया है। उन्होंने कहा बीसीसीआई राहुल द्रविड़ का भारत की वरिष्ठ पुरुष टीम के मुख्य कोच के रूप में स्वागत करता है। राहुल का खेल करियर शानदार रहा है और वह इस खेल के महान खिलाड़ियों में से एक हैं। उन्होंने विशिष्ट रूप से राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के प्रमुख के रूप में भारतीय क्रिकेट की सेवा की है। एनसीए में राहुल के प्रयास ने कई युवा क्रिकेट प्रतिभाओं का पोषण किया है जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश का प्रतिनिधित्व किया है। मुझे उम्मीद है कि उनका नया कार्यकाल भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाइयों पर ले जाएगा।

यह भी पढ़ें: Happy Deepawali: केंद्र और राज्य सरकार ने दिया दीवाली का तोहफा, पेट्रोल-डीजल हुआ सस्ता..

तीसरी बार भारतीय टीम से जुड़े
यह तीसरी बार होगा जब द्रविड़ टीम इंडिया के साथ काम करेंगे। उनका पहला कार्यकाल 2014 में पहली बार आया, जब उन्होंने टेस्ट सीरीज के लिए बल्लेबाजी सलाहकार के रूप में इंग्लैंड की यात्रा की थी। जुलाई 2021 में द्रविड़ अंतरिम मुख्य कोच के रूप में लौटे, क्योंकि शास्त्री के नेतृत्व वाला कोचिंग स्टाफ इंग्लैंड में था।
द्रविड़ का करियर
राहुल द्रविड़ के क्रिकेट करियर की बात करें तो उन्होंने 164 टेस्ट की 286 पारियों में 36 शतकों और 63 अर्धशतकों की मदद से 13288 रन बनाए हैं, जबकि 270 उनका हाई स्कोर है। फैंस के बीच ‘द वॉल’ नाम से मशहूर द्रविड़ ने भारत के लिए 344 वनडे खेले। इस दौरान उनके नाम 12 शतक और 83 अर्धशतक के दम पर 10889 रन दर्ज हैं।

यह भी पढ़ें: Viral: इंटरनेट पर छाया पवनदीप अरुणिता का डांस वीडियो, जबरदस्त केमिस्ट्री ने जीता फैंस का दिल..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X