हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

मौसमः उत्तराखंड में चार दिनों तक बारिश-ओलावृष्टि का जारी हुआ अलर्ट, रहे सावधान…

Hillvani-Weather-Alert-Uttarakhand

Hillvani-Weather-Alert-Uttarakhand

उत्तराखंडः प्रदेश में चिलमिलाती गर्मी से राहत मिलने वाली है। मौसम विभाग ने अगले चार दिन बारिश और औलावृष्टि का अलर्ट जारी किया है। 13 और 14 अप्रैल को देहरादून टिहरी सहित आठ जिलों में बारिश, ओलावृष्टि, आकाशीय बिजली गिरने की संभावना है तो वहीं इस दौरान भयंकर तूफान का अलर्ट भी जारी किया है। मौसम विभाग ने इस दौरान सावधानी बरतने की अपील की है। प्रदेश के पर्वतीय जिलों के लिए विशेषकर अलर्ट जारी किया गया है।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंड कांग्रेस में हाईकमान के फैसले के बाद बढ़ी सियासी हलचल..

मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में 12 अप्रैल की रात से पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो जाएगा। जहां राज्य में 12 अप्रैल तक भीषण गर्मी के लिए ऑरेंज और रेड अलर्ट जारी किया था। अब 13 और 14 अप्रैल के लिए बारिश और ओलावृष्टि का येलो अलर्ट जारी किया है। प्रदेश के उत्तरकाशी, चमोली, टिहरी, देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी, पिथौरागढ़ और बागेश्वर जिलों के लिए ओलावृष्टि, आकाशीय बिजली गिरने का येलो अलर्ट जारी किया गया है। इस दौरान 30 से 40 किलोमीटर की रफ्तार से हवा चलने की संभावना भी जताई गई है। ओलावृष्टि से खुले में रहने वाले मवेशी चोटिल हो सकते हैं। उन्होंने काश्तकारों को खेत में रखी कटी फसल सुरक्षित स्थानों में रख लेने को कहा है।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंड: कहीं आप नकली नमक तो नहीं खा रहे? यहां पकड़ा गया बड़ी मात्रा में टाटा का नकली नमक..

गौरतलब है कि मौसम विभाग ने एक और जहां पूरे उत्तराखंड में भीषण गर्मी का अलर्ट जारी किया हुआ है, तो वहीं जोशीमठ क्षेत्र में हुई बारिश से लोगों को राहत जरूर मिली है। फरवरी माह में हुई बारिश के बाद पहाड़ों में अच्छी बारिश नहीं हुई थी, लेकिन शनिवार को एक बार फिर से मौसम बदला और झमाझम बारिश शुरू हो गई। यह मूसलाधार बारिश स्थानीय लोगों के लिए किसी सौगात से कम नहीं थी। बारिश होने से सबसे ज्यादा फायदा किसानों को मिला है।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंड: पति बना हैवान, बेहरमी से की पत्नी की हत्या। मासूम बच्चों के सिर से उठा मां का साया..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X