हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

घंटों जाम से परेशान हो रहे राहगीर, सवालों के घेरे में स्थानीय पुलिस प्रशासन की कार्य प्रणाली..

ऊखीमठ। लक्ष्मण नेगी: ऊखीमठ मुख्य बाजार में घन्टों जाम लगना आम बात हो गयी है। मुख्य बाजार में घन्टों जाम लगने से राहगीरों को पैदल चलने में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। मुख्य बाजार में घन्टों जाम से निजात पाने के लिए केन्द्र सरकार की प्रसाद योजना के तहत पार्किंग का निर्माण तो किया गया है मगर अधिकांश वाहनों के पार्किंग में खड़े करने के बजाय मुख्य बाजार में आडे़ – तिरछे खड़े होने से प्रति दिन घन्टों जाम लगना आम बात बनी हुई है। पूर्व में पुलिस पब्लिक संवाद में स्थानीय व्यापारियों की शिकायत पर पुलिस अधीक्षक आयुष अग्रवाल ने स्थानीय पुलिस प्रशासन को जाम से निजात दिलाने का सख्त फरमान जारी किया था मगर घन्टों जाम लगने से स्पष्ट हो गया है कि स्थानीय पुलिस प्रशासन पुलिस अधीक्षक के फरमान तो दरकिनार समझने में अपनी भलाई समझ रहा है।

बता दे कि ऊखीमठ मुख्य बाजार तहसील व विकासखण्ड मुख्यालय होने के कारण यहाँ ऊखीमठ – रासी, ऊखीमठ – मनसूना – गबगू, ऊखीमठ – करोखी, ऊखीमठ – सारी, ऊखीमठ – चोपता, ऊखीमठ – मक्कू , ऊखीमठ डुगरसेमला, ऊखीमठ – रूद्रप्रयाग, ऊखीमठ – अगस्तमुनि, ऊखीमठ – गुप्तकाशी सहित विभिन्न क्षेत्रों के  जीप टैक्सी यूनियन से जुड़े छोटे वाहनों के अलावा निजी वाहनों का आवागमन निरन्तर जारी रहता है। मुख्य बाजार में घन्टों जाम से निजात दिलाने के उद्देश्य से पूर्व में यहाँ पर जाम से निजात दिलाने के लिए केन्द्र सरकार की प्रसाद योजना के अन्तर्गत कार पार्किंग का निर्माण तो किया गया मगर निजी वाहनों के कार पार्किंग में खड़े करने करने के बजाय मोटर मार्ग के दोनों किनारों खड़े होना जाम का मुख्य कारण बना हुआ है। मुख्य बाजार में घन्टों जाम लगने के लिए स्थानीय पुलिस प्रशासन की कार्य प्रणाली भी सवालों के घेरे में है।

यदि स्थानीय पुलिस प्रशासन मोटर मार्ग के दोनों तरफ खड़े वाहनों के खिलाफ सख्त कदम उठाती है तो जाम की समस्या से निजात मिल सकता है। मुख्य बाजार में घन्टों जाम लगने का सबसे अधिक खामियाजा राहगीरों को भुगतना पड़ रहा है। पूर्व में पुलिस प्रशासन द्वारा आयोजित पुलिस पब्लिक संवाद में पुलिस अधीक्षक आयुष अग्रवाल ने स्थानीय व्यापारियों की शिकायत पर स्थानीय पुलिस प्रशासन को मुख्य बाजार में जाम से निजात दिलाने के सख्त निर्देश दिए थे मगर पुलिस अधीक्षक के निर्देश के बाद भी पुलिस प्रशासन किस गहरी निन्द्रा में है यह यक्ष प्रश्न बना हुआ है। कांग्रेस व्यापार प्रकोष्ठ के प्रदेश महामंत्री व पूर्व व्यापार संघ अध्यक्ष आनन्द सिंह रावत का कहना है कि मुख्य बाजार में घन्टों जाम लगने का मुख्य बाजार मोटर मार्ग के दोनों तरफ बेवजह खड़े वाहन है।

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X