हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

यहां होगा कड़ा मुकाबला, किसकी होगी जीत किसकी हार। देखें पूरी रिपोर्ट..

विधानसभा चुनाव 2022: हॉट सीट में सुमार नरेंद्र नगर विधानसभा से इस बार कांग्रेस-बीजेपी में कड़ी टक्कर देखी जा रही है। पूर्व विधायक ओम गोपाल रावत इस बार कांग्रेस और मंत्री सुबोध उनियाल बीजेपी से मुकाबले में उतरे हैं। ओम गोपाल रावत तो टिकट मिलने से कुछ समय पहले ही बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में आए हैं। ये दोनों प्रत्याशी इस सीट से साल 2002 से ही एक दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़ते रहे हैं। हालांकि इस बार मुकाबला किसी के लिए भी आसान नहीं होगा। नरेंद्र नगर विधानसभा सीट में जीत-हार का गणित इसके फुट हिल क्षेत्र मुनी की रेती, ढालवाला और तपोवन से तय होता रहा है। पूरी विधानसभा के कुल मतदाताओं में से इस क्षेत्र में सबसे बड़ा तबका मतदाताओं का है। यहां जिसकी बढ़त बन गई, उसके लिए मैदान मारना आसान हो जाता है। राज्य बनने के बाद से इस सीट से हुए चार चुनावों में अब तक दो बार कांग्रेस, एक बार यूकेडी और एक बार बीजेपी चुनाव जीती। अगर राज्य गठन के बाद चुनाव को देखें तो सुबोध उनियाल यहां से दो बार कांग्रेस से और एक बार बीजेपी से जीते जबकि ओम गोपाल यूकेडी से एक बार जीते थे। इस बार फिर से ओम गोपाल और सुबोध उनियाल में टक्कर है। फुट हिल क्षेत्र में स्वरोजगार करने वालों की आबादी काफी है। दो सालों में कोरोना की वजह से रोजगार का संकट रहा है। ये लोग सरकार की तरफ से मदद की पर्याप्त पहल नहीं होने का आरोप लगा रहे हैं। यहां ज्यादातर लोग परिवर्तन के मूड में दिख रहे हैं। हिलवाणी ने ढालवाला और नजदीकी क्षेत्रों में जनता सहित दोनों पार्टी बीजेपी कांग्रेस के पदाधिकारियों से बात की… आप भी देखें और सुने क्या चाहती है जनता व कार्यकर्ता…

नरेंद्रनगर विधानसभा। चुनावी भ्रमण। चुनाव 2022। यहां होगा कड़ा मुकाबला। Hillvani। उत्तराखंड..

इस सीट पर हुए विधानसभा चुनावों के परिणाम
उत्तराखंड के गठन के बाद साल 2002 में इस सीट पर विधानसभा का चुनाव कराया गया था, जिसमें कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार सुबोध उनियाल विधायक चुने गए थे। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी लाखीराम को हराया था। 2007 के विधानसभा चुनाव में उत्तराखंड क्रांति दल के उम्मीदवार ओम गोपाल विधायक चुने गए थे उन्होंने कांग्रेस के सुबोध उनियाल को हराया था। 2012 के विधानसभा चुनाव में इस सीट पर कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार सुबोध उनियाल दूसरी बार विधायक चुने गए थे। उन्होंने भाजपा के उम्मीदवार ओम गोपाल रावत को हराया था।

चुनावी भ्रमण: प्रदेश के सबसे युवा प्रत्याशी से खास बातचीत, क्या चाहते हैं यहां के युवा और महिलाएं…

2017 विधानसभा चुनाव के आंकड़े
2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी छोड़कर भाजपा में आए पूर्व विधायक सुबोध उनियाल ने निर्दलीय उम्मीदवार ओम गोपाल रावत को चुनाव हराया था। इस चुनाव में सुबोध उनियाल को 24,104 वोट मिला था, जबकि निर्दलीय उम्मीदवार ओम गोपाल रावत को 19,132 वोट मिला था। तीसरे नंबर पर कांग्रेस पार्टी के हिमांशु थे, जिन्हें 4,328 वोट मिला था। उत्तराखंड क्रांति दल के सरदार सिंह को 3,314 वोट मिला था। 2017 के विधानसभा चुनाव में इस सीट पर भाजपा का वोट शेयर 46.37 प्रतिशत था। निर्दलीय उम्मीदवार का वोट शेयर 36.81 प्रतिशत था। कांग्रेस पार्टी को वोट शेयर 8.33 प्रतिशत और उत्तराखंड क्रांति दल का वोट शेयर 6.38 प्रतिशत था। अब 2022 के चुनावी रण में ये देखना दिलचस्प होगा कि इस बार कौन किसको पटकनी देता है और विधानसभा पहुंचता है।

रुद्रप्रयाग विधानसभा: क्या है जनता का मूड, क्या कहते हैं प्रत्याशी? देखें पूरी रिपोर्ट…

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X