हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

उफ्फ ये गर्मी: फिर करवट बदलेगा मौसम, बारिश से मिलेगी राहत तो ओलावृष्टि बढ़ा सकती है मुसीबत..

उत्तराखंड में एक बार फिर मौसम बदलने वाला है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान की मानें तो उत्तराखंड के कुछ जिलों को छोड़ बाकि जिलों में मौसम शुष्क ही रहेगा। बारिश से कुछ दिन राहत के बाद उत्तराखंड में फिर पारा चढ़ रहा है। हालांकि कुछ पर्वतीय जिलों में हल्की बारिश के आसार जरूर हैं, लेकिन बाकी जगह मौसम साफ रहेगा। 19 अप्रैल तक प्रदेश में बारिश के आसार नहीं हैं। इस दौरान तापमान बढ़ सकता है। फिलहाल मौसम विभाग की ओर से कोई चेतावनी जारी नहीं हुई है। 20 अप्रैल से बारिश की संभावना जरूर मौसम विभाग ने जताई है।

यह भी पढ़ें: फैटी लिवर की समस्या को न करें अनदेखा, हो सकता है खतरनाक। जानें लक्षण और कारण..

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ आने की वजह से मौसम में एक बार फिर बदलाव की संभावना बन रही है। इससे पर्वतीय क्षेत्रों में जहां बारिश देखने को मिलेगी। वहीं मैदानी इलाकों में अंधड़ चल सकता है। पर्वतीय इलाकों में कुछ जगहों पर ओलावृष्टि होने से किसानों की मुश्किल बढ़ सकती है। इस समय गेहूं की फसल के तैयार होने का समय है। खेतों में सब्जियों भी लगी हैं। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ की वजह से 20 व 21 अप्रैल को गढ़वाल कुमाऊं के पर्वतीय क्षेत्रों में कहीं कहीं पर हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। इससे तापमान में थोड़ी कमी आएगी।

यह भी पढ़ें: लोक-परम्पराओं का राजनीतिकरण..

पश्चिमी हवाओं ने बढ़ाया तापमान

पश्चिमी हवाएं चलने से तापमान में तेजी का सिलसिला जारी है। कुमाऊं गढ़वाल के तराई क्षेत्रों के तापमान में लगातार तीसरे दिन तेजी देखी गई। साथ ही पर्वतीय क्षेत्रों में भी तापमान में तेजी आई है। बढ़ते तापमान की वजह से मैदानी इलाकों में तपिश बढ़ गई है। दिन के समय घरों से बाहर निकलने में तेज धूप झुलसा रही है। पर्वतीय क्षेत्रों में भी दिन के समय तेज धूप पड़ रही है। अगले दो दिन गर्मी से राहत की उम्मीद नहीं है। इस समय राजस्थान व पाकिस्तान की तरफ से आ रही हवाएं अपने साथ गर्मी लेकर आ रही हैं। इससे तापमान में तेजी देखने को मिल रही है।

यह भी पढ़ें: शादी में जा रहे मासूम को गुलदार ने बनाया निवाला, शव देख परिजनों का फट गया कलेजा। मचा कोहराम..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X