हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

बड़ी खबर : सिलक्यारा टनल में फंसे 41 मजदूर आज निकल सकते है बाहर, पढिए क्या है अपडेट..

0
Investigation report of tunnel accident in Silkyara

Silkyara tunnel rescue big update : उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में निर्माणाधीन सिलक्यारा टनल में फंसे 41 मजदूरों को बाहर निकालने के लिए विभिन्न एजेंसियों का काम अंतिम चरण में पहुंच गया। इसके मद्देनजर एम्बुलेंस को तैयार रखा गया है, और चिकित्सकों को घटनास्थल पर बुला लिया गया है।
टनल में कई दिनों से फंसे 41 मजदूरों को एक-एक कर बाहर लाने की कोशिशों के बीच 45 मीटर तक खुदाई के बाद सरिया आ गया, अब उसे हटाने के बाद फिर खुदाई शुरू की गई। अब केवल 12 मीटर और खोदना है, जिसमें अगले कुछ घंटे और लग सकते, यह हॉरिजेंटल पाइप की खुदाई हो रही है।

ये भी पढिए : Uttarkashi Tunnel Rescue: केंद्र की टीवी चैनलों को ये एडवाइजरी। रेस्क्यू कार्य जारी..

NDRF की टीम 800 mm की पाइपलाइन के अंदर जाकर मजदूरों को बाहर निकालेगी | Silkyara tunnel rescue big update

बता दे कि मजदूरों को बाहर निकालने के लिए मलबे को भेदकर 800 मिमी व्यास का स्टील पाइप डालकर रास्ता तैयार किया जा रहा है, जिसका निर्माण अंतिम चरण में पहुंच गया है। बताया जा रहा है कि किसी भी वक्त मजदूरों को बाहर निकाला जा सकता है। NDRF ‘सेकंड इन कमांड’ रवि शंकर बधानी ने बताया कि एनडीआरएफ के जवानों ने इसका अभ्यास कर लिया है कि कैसे पाइप के जरिए मलबे के दूसरी ओर जाना है जहां मजदूर फंसे हैं।

NDRF की टीम 800 mm की पाइपलाइन के अंदर जाकर मजदूरों को एक एक कर बाहर निकालेगी। अगर मजदूरों को कमजोरी हुई तो NDRF की टीम के द्वारा उन्हें स्केट्स लगी टेंपररी ट्रॉली के जरिए बाहर लाया जाएगा। मजदूरों को बाहर निकालने के बाद 41 एंबुलेंस में चिल्यानीसौड़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया जाएगा। यहां 41 बेड का अस्पताल तैयार किया गया है। मजदूरों को इस अस्पताल तक पहुंचाने के लिए ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया है। जरूरत पड़ी तो मजदूरों को एयरलिफ्ट कर ऋषिकेश एम्स ले जाया जा सकता है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से लागातार फोन पर बात करके सिलक्यारा में चल रहे बचाव कार्यों की जानकारी ले रहे है।

ये भी पढिए : उत्तरकाशी में निर्माणाधीन टनल में फंसे मजदूर पहली बार कैमरे में आए नज़र..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X