हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

केजरीवाल के पास उत्तराखंड के विकास का कोई विजन व रोडमैप नहीं…

Hillvani-Sawal-Uttarakhand

Hillvani-Sawal-Uttarakhand

उत्तराखंडः बीते रोज देहरादून में दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल की रैली पूरी तरह से फ्लॉप रही है। उत्तराखंड के समग्र विकास के लिये उनके पास कोई रोडमैप नहीं था, जनता को केवल फ्री फ्री देने पर भ्रमित करने की कोशिश की गई। उत्तराखंड की जनता को अब एक और दिल्ली शासित दल धोखा देने पहुंचा है जिसके छलावे को उत्तराखंड की जनता भलीभांति समझ रही है। उत्तराखंड क्रांति दल के केन्द्रीय प्रवक्ता विजय बौड़ाई ने कहा कि उनके भाषणों से स्पष्ट है कि उत्तराखंड के जल, जंगल, जमीन, शिक्षा, स्वास्थ्य और पर्यटन पर कोई योजना उनके पास नहीं है। आज सैनिकों की बात करने वाले पहले सेना से सर्जिकल स्ट्राइक का प्रमाण मांग रहे थे। युवाओं को नौकरी देने और रोजगार भत्ते की बात भाजपा के 15 लाख हर खाते में आने जैसा जुमला है। उत्तराखंड के भोले-भाले युवाओं तथा जनता को धोखा देकर वोट लेने का चुनावी स्टंट है।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंड कांग्रेस में इनके टिकट हुए तय, आचार संहिता के बाद होगी आधिकारिक घोषणा..

उक्रांद के केन्द्रीय प्रवक्ता विजय बौड़ाई ने कहा कि उत्तराखंड में केजरीवाल की घोषणा है कि बेरोजगारों को 5000 प्रति माह मिलेगा जो सिर्फ कोरी घोषणा है। राज्य में करीब 16 लाख के आसपास बेरोजगार हैं, ऐंसे में हर माह लगभग 8 अरब व साल भर में 96 अरब यानी 9600 करोड़ खर्च होंगे, जोकि यहां की सरकार द्वारा दिया जाना झूठी व खोखली बात है। इसी तरह बिजली मुफ्त की भी उनकी कोरी घोषणा है। राज्य में 26 लाख बिजली उपभोक्ता हैं, जिन्हें 300 यूनिट फ्री बिजली देना मतलब एक परिवार को 1500 प्रति माह देना है। ऐंसे में साल भर में एक परिवार को 18000 रुपये की अनुमानित बिजली देने की बात की है, तो राज्य में कुल 4680 करोड़ की बिजली फ्री साल भर में देंगे। दोनों घोषणाओं में अनुमानित 14280 करोड़ फ्री जनता को देने की झूठी घोषणा आम आदमी पार्टी द्वारा की जाना जनता से एक छलावा मात्र है।

यह भी पढ़ेंः अरविंद केजरीवाल कोरोना संक्रमित, ये अपील की..

इस प्रकार इतना पैसा केजरीवाल जी लाएंगे कंहा से यह प्रश्न जनता के समक्ष है। कितनी सरलता से आम आदमी पार्टी जनता को भ्रमित कर रही है लेकिन उत्तराखंड की जनता समझ रही है कि ये कोरी घोषणा है जिसको पूरा किया जाना असम्भव है। इस प्रकार का रोजगार और बेरोजगारी भत्ता दिल्ली के युवाओं को तो आप पार्टी दे नहीं रही तो यहां की जनता को कैसे दे सकती है। मात्र खोखले वायदे कर जनता का वोट हासिल करना चाहती है इसके अलावा यहां के जनता से आप पार्टी को कोई लेना देना नहीं है। बौड़ाई ने कहा कि उत्तराखंड का विकास किस प्रकार से हो सकता है इसका स्पष्ट विजन या सटीक रोडमेप केवल राज्य के एक मात्र क्षेत्रीय पार्टी उत्तराखंड क्रांति दल के पास है और वही उत्तराखंड की समस्त परिस्थितियों एवं समस्याओं को समझती है तथा उक्रांद ही यहां का समग्र विकास कर सकता है, जिसको इस बार उत्तराखंड की जनता समझ रही है।

यह भी पढ़ेंः भारतीय कॉमिक्स की प्यारी सी बगिया का कैसे हुआ पतन? दुखदायी तो है पर चिंताजनक भी!

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X