हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

उत्तराखंडः इन बच्चों के लिए UPSC और UKPSC की फ्री कोचिंग का शानदार मौका, पढ़ें पूरी जानकारी..

0
Uttarakhand-coaching-Hillvani-News

Uttarakhand-coaching-Hillvani-News

Great opportunity for free coaching of UPSC and UKPSC: उत्तराखंड में होमगार्ड पुलिस व्यवस्था का एक अहम हिस्सा हैं। इन होमगार्ड्स के बच्चों को हाईटेक कोचिंग देने के लिए उत्तराखंड होमगार्ड विभाग ने महत्वपूर्ण फैसला लिया है। कमांडेंट जनरल होमगार्ड ने होमगार्ड्स के बच्चों को यूपीएससी और यूकेपीएससी की निशुल्क कोचिंग उपलब्ध करने की पहल की है। इसके लिए देहरादून स्थित होमगार्ड मुख्यालय में ही कोचिंग सेंटर तैयार किया जाएगा। आईजी केवल खुराना ने प्रदेश के होमगार्ड्स से बच्चों के नाम उपलब्ध कराने के लिए आवेदन मांगे हैं। महंगाई के इस दौर में संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) और उत्तराखंड लोक सेवा आयोग (यूकेपीएससी) की कोचिंग के लिए अब प्रदेश के होमगार्ड्स के बच्चों को परेशान नहीं होना पड़ेगा। प्रदेश में पहली बार होमगार्ड विभाग ऐसे बच्चों को निशुल्क कोचिंग उपलब्ध कराने जा रहा है जो किह्नी कारणों से कोचिंग की फीस देने में असमर्थ रहते हैं। प्रदेश में पुलिस व्यवस्था काफी हद तक होमगार्ड के भरोसे रहती है। थानों और यातायात समेत अन्य व्यवस्थाओं को चलाने में होमगार्ड्स का अहम योगदान रहता है।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः प्रदेश में तीन नए रूटों पर शुरू होंगी हेली सेवाएं, तीर्थाटन को मिलेगा बढ़ावा..

होमगार्ड्स के इस महत्वपूर्ण योगदान के बावजूद उनके होनहार बच्चे प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी से वंचित रह जाते हैं। कई बार कोचिंग ना मिलने के कारण बच्चे प्रतियोगी परीक्षाओं में पिछड़ भी जाते हैं। अब इन बच्चों को कोचिंग के कारण प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी से वंचित नहीं होना पड़ेगा। कमांडेंट जनरल होमगार्ड आईजी केवल खुराना ने प्रदेश में पहली बार होमगार्ड्स के बच्चों को निशुल्क कोचिंग दिलाए जाने की शुरुआत की है। विभाग इन होनहार बच्चों के लिए देहरादून स्थित मुख्यालय में ही कोचिंग सेंटर खोलने जा रहा है। इस कोचिंग सेंटर में सभी विषयों के विशेषज्ञ और विभागीय अधिकारी बच्चों को कोचिंग देंगे। कोचिंग के लिए बच्चों का एक मानक भी तय किया गया है। इसके अनुसार जो बच्चे स्नातक कर रहे हैं या स्नातक की पढ़ाई पूरी कर चुके हैं, वे यूपीएससी और यूकेपीएससी परीक्षा की तैयारी करना चाहते हैं तो उन्हें कोचिंग दी जाएगी।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः धामी का वार.. वरिष्ठ IFS अफसर पर गिरी गाज, जांच के भी आदेश। जानें- पूरा मामला..

आईजी केवल खुराना ने इसके लिए सभी जिला कमांडेंट को आदेश जारी किए हैं। इसके तहत अपने-अपने जिले में तैनात इच्छुक होमगार्ड्स से बच्चों के नाम मांगे गए हैं। जिला मुख्यालय से आवेदन देहरादून मुख्यालय को भेजे जाएंगे। आईजी केवल खुराना के अनुसार जो बच्चे संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) और उत्तराखंड लोक सेवा आयोग (यूकेपीएससी) की तैयारी करना चाहते हैं। उनके आवेदनों की संख्या के अनुसार ही कोचिंग दी जाएगी। बच्चों की संख्या के हिसाब से देहरादून मुख्यालय में कोचिंग सेंटर तैयार किया जाएगा और विशेषज्ञों की भी तैनाती की जाएगी। फरवरी माह में कोचिंग शुरु किये जाने की उम्मीद है। कमांडेंट जनरल होमगार्ड आईजी केवल खुराना का कहना है कि होमगार्ड्स के जो बच्चे या अन्य आश्रित यूपीएससी और यूकेपीएससी की तैयारी करना चाहते हैं। उन्हें विभाग की ओर से निशुल्क कोचिंग कराई जाएगी। देहरादून में रहने वाले बच्चों को कोचिंग सेंटर में और अन्य जिलों में रहने वालों को दो-दो घंटे की ऑनलाइन कोचिंग दी जाएगी।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः लोकसभा चुनाव से पहले पकड़ा गया नया घपला, 1.32 करोड़ रुपये की अनियमितता आई सामने..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X