हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

उत्तराखंड: क्या कश्मीरी छात्र का है आतंकी कनेक्शन? अपने साथ ले गई J&K पुलिस, पढ़ें पूरा मामला..

देहरादून: पिछले कुछ महीनों से कश्मीर में चल रहे घटनाक्रम को लेकर देश की सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर हैं। हाल में उत्तराखंड पुलिस को भी एक इनपुट साझा किया गया। इस पर एसटीएफ ने कुछ दिन पूर्व जम्मू-कश्मीर के दो छात्रों से पूछताछ की थी। इनके मोबाइल फोन भी जांचे गए, इसमें कुछ खास नहीं मिला था। जिसके बाद बड़ी खबर आई कि इन दो छात्रों में से एक छात्र को बीते रविवार के दिन जम्मू-कश्मीर पुलिस देहरादून से अपने साथ ले गई। सूत्रों कर मुताबिक रविवार को अचानक जम्मू कश्मीर पुलिस देहरादून पहुंची और एक छात्र को अपने साथ ले गई। सूत्रों के मुताबिक जम्मू-कश्मीर में हाल के दिनों में बढ़ी टार्गेट किलिंग को लेकर उससे पूछताछ की जाएगी। शक है कि वह इस मामले में किसी संदिग्ध के संपर्क में था। हालांकि, दून पुलिस को जानकारी नहीं दी गई है। 

यह भी पढ़ें: कंट्रोवर्सी क्वीन का पलटवार। 1947 में कौन सी लड़ाई लड़ी गई? कोई बताए तो लौटा दूंगी पद्मश्री..

आपको बता दें कि दो दिन पूर्व देहरादून में पढ़ रहे दो कश्मीरी छात्रों के आपराधिक कनेक्शन को लेकर पुलिस ने पूछताछ की थी। बताया गया कि प्रेमनगर थाना क्षेत्र में रहकर पढ़ाई कर रहे दो छात्रों की गतिविधियां संदिग्ध हैं। एसटीएफ ने छात्रों को हॉस्टल से बुलाकर पूछताछ की। इन दोनों छात्रों से 24 घंटे से ज्यादा पूछताछ के बाद वापस हॉस्टल भी छोड़ दिया गया। सूत्रों के मुताबिक एसटीएफ जांच में आपराधिक कनेक्शन के तथ्य नहीं मिले। इन छात्रों से कुछ खास जानकारी सामने नहीं आई। साथ ही आपको बता दें कि बीते कुछ महीनों में कश्मीर घाटी काफी अशांत दिखी है। वहां पर 1990 के बाद एक बार फिर से गैर-मुस्लिमों की हत्या के मामले सामने आए हैं। टारगेट किलिंग के इन मामलों ने देश की सुरक्षा एजेंसियों के कान तो खड़े कर रखे हैं, साथ ही सरकार के लिए भी मुश्किलें खड़ी हो गयी हैं। ऐसे में वहां पर पाकिस्तान समर्थित आतंकवाद की कमर तोड़ने को सुरक्षा एजेंसियां ऑपरेशन चला रही हैं।

यह भी पढ़ें: लोक पर्व इगास: कैबिनेट मंत्री हरक रावत पर आया देवता, प्रीतम भरतवाण ने करवाया देवता शांत। देखें वीडियो..

इससे पहले भी देहरादून से गिरफ्तार हुए आतंकी
1- प्रेमनगर में लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी दबोचा गया। 
2- 2001 में क्लमेंटाउन में हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी की गिरफ्तारी हुई।
3- मुंबई में हुए बम ब्लास्ट में एटीएस 2007 में सेलाकुई से एक आतंकी को पकड़कर ले गई थी। एक अन्य कॉलेज से संदिग्ध कश्मीरी की गिरफ्तारी हुई थी।
4- 2008 में यूपी एसटीएफ ने ऋषिकेश से हूजी के एक संदिग्ध को पकड़ा था। हाल ही में नाभा जेल पर हमला कर खालिस्तानी आतंकी को छुड़ाने की साजिश भी आतंकियों ने देहरादून में रहकर ही रची थी।
5- शोएब अहमद लोन देहरादून के प्रेम नगर स्थित अल्पाइन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी एंड मैनेजमेंट में बीटेक (आईटी) का छात्र था। उसने 2018 में अपना सेकंड ईयर कंप्लीट किया था। उसके बाद वह दक्षिणी कश्मीर के कुलगाम स्थित अपने घर गया था। कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों में शामिल हुआ और हिज्बुल मुजाहिद्दीन में शामिल हो गया ।

यह भी पढ़ें: वायरल वीडियो: गनर या क्रिमिनल? विधायक के गनर ने लोगों से की मारपीट, धमकी भी सुने..

Vote करें👉 उत्तराखंड में आप 2022 में किसकी सरकार चाहते है।

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X