हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

ऋषिकेश : चीला रेंज हादसे में लापता वन्य जीव प्रतिपालक अलोकी का शव बरामद..

0
Chilla range accident

Chilla range accident : सोमवार को चीला बैराज मार्ग पर चीला जल विद्युत गृह के समीप राजाजी टाइगर रिजर्व का इंटरसेप्टर वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। जिसमें चीला की रेंज अधिकारी शैलेश घिल्डियाल तथा उप रेंज अधिकारी प्रमोद ध्यानी सहित चार लोगों की मौत हो गई थी। इस दुर्घटना में पांच लोग घायल हुए थे, जबकि राजाजी टाइगर रिजर्व की वन्य जीव प्रतिपालक आलोकी इस हादसे में चीला शक्ति नहर में गिर गई थी, जिसके बाद वह लापता हो गई थी। उनकी तलाश में एसडीआरएफ की टीम गोताखोरों की मदद से तलाश में जुड़े हुए थे।

गुरुवार 11 जनवरी 2024 को सुबह तड़के ही SDRF द्वारा सर्च आपरेशन फिर से आरम्भ कर दिया गया था। मणिकांत मिश्रा, कमांडेंट SDRF के आदेशानुसार SDRF के विशेषज्ञ गोताखोरों द्वारा चीला पावर हाउस के निकट सर्चिग आरम्भ की गई। दूसरी ओर राफ्ट द्वारा एक बार फिर से घटनास्थल से लेकर पावर हाउस तक सघन सर्च ऑपरेशन चलाया गया। सर्चिग के दौरान SDRF टीम को चीला पावर हाउस के निकट नहर में एक शव बरामद हुआ।

ये भी पढिए : उत्तराखंड : जोशीमठ में जियो टेक्निकल सर्वे तेजी, 48 मीटर ड्रिल के बाद मिली चट्टान..

जल विद्युत गृह के जलाशय के जाल में फंसा मिला शव | Chilla range accident

बता दे आज सुबह करीब 7:30 बजे एसडीआरएफ के गोताखोरों को वन्य जीव प्रतिपालक आलोकी का शव चीला जल विद्युत गृह के जलाशय के जाल में फंसा हुआ मिला। शव को बाहर निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए एम्स भेजा जा रहा है। मौके पर मौजूद निरीक्षक कविंद्र सजवाण द्वारा बताया गया कि बरामद शव की शिनाख्त घटना में लापता महिला अधिकारी के रूप में हो गयी है। SDRF द्वारा बरामद शव को अग्रिम कार्रवाई के लिए जिला पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया है।

इसके साथ ही चीला सड़क हादसे में घायल पांच लोगों में से तीन को डिस्चार्ज कर दिया गया है। दो लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है। गंभीर घायलों का उपचार एम्स ऋषिकेश में अनुभवी चिकित्सकों के द्वारा किया जा रहा है। गौरतलब है कि सोमवार 8 जनवरी को चीला के पास इलेक्ट्रॉनिक व्हीकल का ट्रायल हो रहा था। तभी हादसा हो गया था। चार अफसरों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी। पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे।

ये भी पढिए : MDDA की ओर से अवैध प्लॉटिंग के खिलाफ कार्रवाई जारी..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X