हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

पंचतत्व में विलीन हुई अंकिता, भाई ने दी मुखाग्नि। आरोपी चाहे कोई हो छूटने वाला नहीं- CM धामी

Ankita merged into Panchtatva. Hillvani News

Ankita merged into Panchtatva. Hillvani News

प्रदेश में अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर लोगों में उबाल बना हुआ है। शनिवार को अंकिता का पोस्टमार्टम हुआ था और आज अंतिम संस्कार होना था, लेकिन परिजनों ने अंतिम संस्कार रोक दिया था। आखिरकार देर शाम अंकिता के पिता की अपील के बाद लोगों का गुस्सा शांत हुआ। जिसके बाद अंकिता के अंतिम संस्कार के लिए सभी तैयार हो गए हैं। एनआईटी घाट पर अंकिता के भाई ने मुखाग्नि दी। वहीं दूसरी ओर सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक में होगी। देखें वीडियो…

अंकिता हत्याकांड के मामले में मुख्यमंत्री पुष्कर सिहं धामी ने एकबार फिर दोषियों को सख्त सजा दिलाने की बात दोहराई है। कहा कि एसआईटी अपना काम शुरू कर चुकी है। उन्हें सजा दिलाने का हमने संकल्प लिया है। जनाक्रोश पर बोले ऐसे समय में दुखी लोगों का गुस्सा होना स्वाभाविक है। मीडिया से बातचीत के दौरान परिजनों के पोस्टमार्टम की फाइनल रिपोर्ट आने तक अंतिम संस्कार नहीं करने के निर्णय के सवाल पर सीएम धामी ने कहा कि अंकिता के साथ जघन्य अपराध हुआ है। में उनके पिता को सैल्यूट करता हूं। उन्होंने सभी से अपील की है, सभी ने हमारा साथ दिया है। वो संस्कार करना चाहते है सभी लोग उनका साथ दें।

यह भी पढ़ेंः क्या है ईट राइट इंडिया अभियान? होटल, रेस्टोरेंट और स्कूलों में होगी सख्ती..

सीएम धामी ने कहा कि में भी सभी से कह रहा हूं कि सभी कार्यवाहियां तय समय से हो रही हैं। कहीं कोई कोताही नहीं बरती जा रही है और न कोई ढील दी जा रही है। सख्त से सख्त सजा होगी एसआईटी अपना काम शुरू कर चुकी है। कहा कि आरोपी चाहे कोई हो, कोई भी संलिप्तता हो, कोई कॉर्नर हो, कोई कॉर्नर छूटने वाला नहीं है। सीएम एक और सवाल पर बोले ऐसे समय में दुखी लोगों को गुस्सा होना, रोष होना स्वाभाविक प्रक्रिया है। हमारी बेटी के साथ बड़ी घटना हुई है। उत्तराखंड में इसे कतई स्वीकार नहीं किया जा सकता है। ऐसी घटनाएं बर्दाश्त करने योग्य नहीं हैं। इसपर जितनी सख्ती हो, जितनी जल्द कार्यवाही हो, हम कर रहे हैं। कहा कि चाहे वो फास्ट ट्रैक की बात हो, चाहे सजा दिलाने की, हमने पूरी तरह से संकल्प ले रखा है कि सजा होगी। अंकिता भंडारी के परिजनों को मुआवजे के सवाल पर सीएम धामी ने कहा कि निश्चित रूप से चाहे कोई सरकारी सहायता हो या जो भी सहायता हो हम लोग करेंगे।

यह भी पढ़ेंः UKPSC की भर्तियों में निशुल्क भरे जा सकते हैं आवेदन, आयु सीमा में भी मिल सकती है छूट..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X