हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

चमकेंगे उत्तराखंड के 38 शहर, जहां होगा भरपूर पानी और चमचमाती रोड.. पढ़ें क्या आपका शहर भी है शामिल?

0
Uttarakhand-State-Hillvani-News

Uttarakhand-State-Hillvani-News

38 cities of Uttarakhand will shine: उत्तराखंड के 38 शहरों को चमकाने का प्रोजेक्ट आगे बढ़ गया है। 1600 करोड़ के प्रोजेक्ट पर अब बात लगभग आखरी पड़ाव पर पहुंच गई है। इस प्रोजेक्ट के जरिए शहरों पर बढ़ते आबादी के दबाव को दूर करने पर काम होगा। पहाड़ों के छोटे शहरों को भी पर्याप्त पानी और सीवर सिस्टम से जोड़ा जाएगा। इस योजना में पहाड़ के ऐसे शहरों को लिया गया है, जहां तेजी से आस पास के गांवों की आबादी का भार बढ़ रहा है। इन शहरों को विकसित कर देहरादून, हरिद्वार, यूएसनगर, नैनीताल पर बढ़ते दबाव को भी दूर किया जाएगा। इन 38 शहरों में 24 घंटे पानी की सप्लाई सुनिश्चित की जानी है।

यह भी पढ़ेंः Uttarakhand Job: बीआरपी और सीआरपी के 955 पदों पर अगले माह तक होगी तैनाती..

दिल्ली में होगी अहम बैठक। 38 cities of Uttarakhand will shine
इसके लिए योजना का फील्ड सर्वे कर लिया गया है। सर्वे की रिपोर्ट की ग्राउंड पर जाकर भी पड़ताल कर ली गई है। डीपीआर लगभग फाइनल स्टेज पर पहुंच गई है। अब मंगलवार को इस प्रोजेक्ट को लेकर दिल्ली में अहम बैठक होने जा रही है। इस बैठक में उत्तराखंड से अपर सचिव कर्मेंद्र सिंह, एमडी पेयजल निगम सुरेश चंद्र पंत शामिल होंगे। राज्य में सिर्फ 24 शहर ही ऐसे हैं, जहां पर्याप्त 135 एलपीसीडी पानी उपलब्ध है। 28 शहर ऐसे हैं, जहां 70 से 134 एलपीसीडी पानी मिलता है।

यह भी पढ़ेंः Uttarakhand Crime: गला रेतकर व्यक्ति की हत्या, पति का हाल देख कांप गई पत्नी की रूह..

गढ़वाल क्षेत्र के यह शहर हैं शामिल। 38 cities of Uttarakhand will shine
चमोली में गैरसैंण, थराली, नंदप्रयाग, जोशीमठ, पीपलकोटी, गोपेश्वर, हरिद्वार में पिरान कलियर, शिवालिकनगर, भगवानपुर, लक्सर, लंढौरा, झबरेड़ा, टिहरी में चमियाला, चंबा, घनसाली, लंबगांव, कीर्तिनगर, टिहरी, रुद्रप्रयाग में तिलवाड़ा, रुद्रप्रयाग, ऊखीमठ, अगस्त्यमुनी, उत्तरकाशी में बड़कोट, चिन्यालीसौड़, पुरोला, नौगांव शामिल हैं। प्रबंध निदेशक पेयजल निगम सुरेश चंद्र पंत का कहना है कि जायका प्रोजेक्ट पर तेजी से काम किया जा रहा है। योजना से जुड़ी औपचारिकताओं को जल्द से जल्द पूरा किया जाएगा। प्रोजेक्ट से राज्य के पर्वतीय शहरों की पेयजल जरूरतों को पूरा किया जा सकेगा।

यह भी पढ़ेंः मुख्यमंत्री ने कनिष्ठ सहायक के पदों पर चयनित 16 अभ्यर्थियों को प्रदान किये नियुक्ति पत्र..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X