हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

उत्तराखंडः इन जिलों के 12 अधिकारियों की होगी विजिलेंस जांच, पढ़ें क्या है पूरा मामला..

0
Uttarakhand-Investigation-Hillvani-News

Uttarakhand-Investigation-Hillvani-News

सरकारी पदों पर रहकर गैरकानूनी तरीके से संपत्ति बनाने वाले अधिकारियों पर विजिलेंस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। नैनीताल और यूएस नगर के 12 अधिकारियों के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति की जांच शुरू हो गई है। इनमें परिवहन, राजस्व सहित आम लोगों के सीधे काम से जुड़े विभागों के अफसर बताए जा रहे हैं। इन अफसरों पर आय से अधिक संपत्ति बनाने का आरोप है। विजिलेंस ने गोपनीय जांच शुरू की तो आरोप काफी हद तक सही मिले। शासन में बनी कमेटी ने कुमाऊं विजिलेंस की रिपोर्ट का ऑडिट किया और खुली जांच के आदेश दिए हैं। कुमाऊं विजिलेंस के सीओ अनिल मनराल ने बताया कि जांच के दायरे में करीब 12 अधिकारी हैं।

यह भी पढ़ेंः उद्यान घोटाले में उत्तराखंड सरकार को बड़ा झटका, हाईकोर्ट के आदेश को चुनौती देने वाली याचिका खारिज..

खुली जांच के लिए बैंक, बीमा, राजस्व आदि विभागों से अधिकारियों के नाम पर मौजूद संपत्तियों, बैंक खातों समेत अन्य विवरण मांगा गया है। बता दें कि खुली जांच की रिपोर्ट दोबारा शासन को भेजी जाएगी। जांच रिपोर्ट के ऑडिट के बाद ही विजिलेंस डायरेक्टर की अध्यक्षता वाली कमेटी तय करेगी कि मुकदमा दर्ज किया जाना चाहिए या नहीं। वहीं मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आठ अधिकारी ऊधमसिंह नगर जिले के हैं। वहीं चार अधिकारी नैनीताल जिले के शामिल हैं। इनसे छोटी से लेकर बड़ी हर वस्तु का हिसाब-किताब मांगा जाएगा। इसमें बच्चों की पढ़ाई लिखाई से लेकर उसके विदेश जाने या देश में नौकरी करने तक का रिकॉर्ड शामिल होगा।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः वन पंचायत नियमावली में यह संशोधन करने जा रही सरकार, कैबिनेट से हरी झंडी का है इंतजार..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X