हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

उत्तराखंडः मंदिर दर्शन के लिए आए थे 5 दोस्तों, 2 की नदी में डूबने से हुई मौत..

0
2 friends died due to drowning in the river. Hillvani News

2 friends died due to drowning in the river. Hillvani News

गर्जिया मंदिर के पास कोसी नदी में नहाते वक्त मुरादाबाद के दो युवक डूब गए। शोर मचने पर श्रद्धालुओं और पुलिस कर्मियों ने दोनों को नदी से निकालकर रामनगर के सरकारी अस्पताल में पहुंचाया, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। गर्जिया चौकी प्रभारी गगनदीप सिंह ने बताया कि मुरादाबाद निवासी आशीष ठाकुर (19) पुत्र डॉ. राजकुमार निवासी हरथला मुरादाबाद, सूरज यादव (18) पुत्र स्व. रामनाथ यादव निवासी मनोकामना मंदिर के पास मुरादाबाद, आदित्य कश्यप (17) पुत्र सत्यवीर सिंह, वर्षीय हिमांशु सिंह (18) पुत्र डालचंद्र और इमरान (19) पुत्र फरहत अली निवासी हरथला मुरादाबाद मंगलवार को कार से रामनगर के गर्जिया मंदिर घूमने पहुंचे। दोपहर में सभी गर्जिया मंदिर के पास कोसी नदी में नहा रहे थे।

यह भी पढ़ेंः Weather: अगले 3 दिनों ऐसे रहेगा उत्तराखंड का मौसम, जानिए…

इस दौरान आशीष ठाकुर और सूरज यादव कोसी नदी के गहरे कुंड में फंसकर डूब गए। आदित्य, हिमांशु और इमरान नदी किनारे नहा रहे थे। हादसे के दौरान मौके पर मौजूद श्रद्धालु व पुलिस ने आशीष और सूरज को रामनगर के सरकारी अस्पताल पहुंचाया जहां डॉक्टर ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। कोतवाल अरुण कुमार सैनी ने बताया कि मृतकों के परिजनों को सूचित कर दिया गया है। परिजनों के आने के बाद शवों का पोस्टमार्टम किया जाएगा। गर्जिया मंदिर में कोसी नदी में नहाने वालों को सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं। मृतकों के दोस्त आदित्य ने बताया कि कोसी नदी में नहाते समय आशीष अचानक डूबने लगा तो सूरज उसे बचाने गया। काफी कोशिश के बाद भी सूरज को सफलता नहीं मिली और दोनों डूब गए। हम सभी घूमने के लिए आए थे।

यह भी पढ़ेंः Big Breaking: प्रदेश का माणा गांव अब देश का पहला गांव…

आदित्य ने बताया कि उनकी पहले से रामनगर आने की योजना नहीं थी। सोमवार को अचानक प्लान बना कि मंगलवार को रामनगर जाएंगे। मंगलवार सुबह आशीष ने अपनी कार निकाली और सभी दोस्त मस्ती करते हुए दोपहर 12 बजे तक रामनगर पहुंच गए। रामनगर पहुंचने के बाद गर्जिया मंदिर के लिए निकले पड़े। सभी ने माता गर्जिया मंदिर के दर्शन किए। दोपहर डेढ़ बजे दर्शन करने के बाद सभी मंदिर के पीछे बह रही नदी में नहाने लगे। आदित्य ने बताया कि आशीष व सूरज को तैरना आता था तो वे नदी में उतरकर नहा रहे थे। जबकि वह और अन्य दो दोस्त नदी किनारे नहा रहे थे। आशीष नहाते हुए गहरे कुंड की ओर चला गया और उसमें फंस गया। आशीष ने काफी कोशिश की लेकिन वह गहरे कुंड से निकल नहीं पाया। ऐसे में सूरज उसे बचाने के लिए गहरे कुंड की ओर ओर चला गया। उसने एक बार आशीष को पकड़ लिया और उसे नदी किनारे लाने लगा लेकिन अचानक वह भी गहरे कुंड में भंवर में फंस गया और डूब गया।

यह भी पढ़ेंः जखोली में सैनिक स्कूल के नाम पर 10 करोड़ खर्च फिर भी ठंडे बस्ते में प्रस्ताव, चमोली-चंपावत में बनेंगे सैनिक स्कूल..

आदित्य ने बताया कि उनके शोर मचाने पर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। अन्य श्रद्धालुओं ने किसी तरह दोनों को नदी से बाहर निकाला और कार से दोनों को रामनगर के सरकारी अस्पताल ले गए। आदित्य ने बताया कि काश हम यहां नहीं आते तो शायद यह हादसा नहीं होता। आदित्य व इमरान ने बताया कि कोसी नदी में नहाने से पहले टूर को यादगार बनाने के लिए सभी ने सेल्फी ली लेकिन किसे पता था कि आशीष व सूरज के साथ यह आखिरी सेल्फी बन जाएगी। आदित्य ने बताया कि सूरज 11वीं और आशीष 12वीं का छात्र था। हिमांशु, इमरान व आदित्य भी 12वीं के छात्र हैं। इधर, दो दोस्तों की मौत के बाद अस्पताल में हिमांशु के पेट में दर्द होने लगा। इस पर अस्पताल में हिमांशु का इलाज किया गया। अब उसकी हालत ठीक है।

यह भी पढ़ेंः Job: यहां निकली बंपर भर्ती, इस तारीख तक कर सकतें हैं अप्लाई…

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X