हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

वन दरोगा भर्ती में दोबारा नहीं होगी शारीरिक परीक्षा, पढ़ें जरूरी अपडेट..

UKSSSC पेपर लीक मामले में रद्द की गई वन दरोगा भर्ती में दोबारा शारीरिक परीक्षा नहीं होगी। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की ओर से 316 पदों के लिए सिर्फ लिखित परीक्षा कराई जाएगी। नए साल में मार्च के दूसरे सप्ताह तक चयन आयोग लिखित परीक्षा आयोजित कर सकता है। एसटीएफ की जांच में पेपर लीक कर नकल करने की पुष्टि होने के बाद अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने वन दरोगा, स्नातक स्तरीय, सचिवालय रक्षक भर्ती को रद्द कर दोबारा से लिखित परीक्षा कराने का फैसला लिया, लेकिन वन दरोगा के 316 पदों के लिए लिखित परीक्षा के बाद शारीरिक दक्षता परीक्षा कराई गई थी। आयोग ने स्पष्ट किया कि पूर्व में दरोगा भर्ती के लिए अभ्यर्थी शारीरिक परीक्षा को क्वालीफाई कर चुके हैं। लिखित परीक्षा में पेपर लीक होने से भर्ती में गड़बड़ी हुई है, जिससे अब आयोग दोबारा से शारीरिक परीक्षा नहीं कराएगा। आयोग की ओर से यह भी निर्णय लिया गया कि वन दरोगा की दोबारा होने वाली लिखित परीक्षा में वही अभ्यर्थी शामिल होंगे, जिन्होंने पूर्व में परीक्षा दी है। आवेदन कर परीक्षा न देने वाले अभ्यर्थी भी दोबारा होने वाली परीक्षा में नहीं बैठेंगे और न ही नए अभ्यर्थियों को आवेदन का मौका मिलेगा।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः विधानसभा से बर्खास्त कर्मचारियों ने गले में फांसी का फंदा डालकर जताया विरोध..

आपको बता दें कि वन दरोगा भर्ती के लिखित परीक्षा 51,961 अभ्यर्थियों ने दी थी। परीक्षा के लिए 83,776 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने 18 दिसंबर 2019 को विज्ञापन जारी किया था। 16 से 21 जुलाई 2021 तक ऑनलाइन परीक्षा कराई थी। आठ जनवरी 2022 को परीक्षा का परिणाम घोषित किया। परीक्षा के बाद अभ्यर्थियों का फिजिकल टेस्ट लिया गया था। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग अध्यक्ष जीएस मर्तोलिया का कहना है कि वन दरोगा भर्ती के लिए दो परीक्षाएं होती हैं, जिसमें लिखित परीक्षा के बाद शारीरिक परीक्षा होती है, लेकिन दोबारा से इन पदों के लिए शारीरिक परीक्षा नहीं कराई जाएगी। अभ्यर्थी पूर्व में शारीरिक टेस्ट पास कर चुके हैं।

यह भी पढ़ेंः राशिफल 1 जनवरी 2023: पहले दिन इन पांच राशियों को मिलेगा भाग्य का साथ, इनको मिलेगी चुनौतियां…

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X