हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

केदारनाथ धाम पुनर्निर्माण कार्यों का स्थलीय निरीक्षण एवं समीक्षा करने पहुंचे सचिव PMO मंगेश घिल्डियाल..

Mangesh Ghildiyal did site inspection of Kedarnath Dham reconstruction works. Hillvani News

Mangesh Ghildiyal did site inspection of Kedarnath Dham reconstruction works. Hillvani News

श्री केदारनाथ धाम में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों का स्थलीय निरीक्षण एवं समीक्षा के लिए पहुंचे विशेष कार्य अधिकारी बदरीनाथ-केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्य भाष्कर खुल्बे व उप सचिव पीएमओ मंगेश घिल्डियाल ने मंगलवार को केदारपुरी का भ्रमण किया। निरीक्षण के दौरान दोनों अधिकारियों ने निर्माणदायी संस्थाओं को माह अक्टूबर तक विभिन्न कार्यों को पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने केदारनाथ यात्रा मार्ग पर सड़क, विद्युत, जल सहित अन्य आवश्यक व्यवस्थाओं को दुरस्त रखने के भी निर्देश दिए। मंगलवार को विशेष कार्य अधिकारी बदरीनाथ-केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्य भाष्कर खुल्बे की अगुवाई में उप सचिव पीएमओ मंगेश घिल्डियाल, जिलाधिकारी मयूर दीक्षित समेत अन्य अधिकारी केदारनाथ धाम पहुंचे। भाष्कर खुल्बे ने कहा कि केदारपुरी का पुनर्निर्माण एवं सौंदर्यीकरण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वकांक्षी योजनाओं में शामिल है। उन्होंने जिला प्रशासन समेत निर्माणदायी संस्थाओं को निर्माण कार्यों में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखते हुए समय पर सभी कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। कहा कि केदारपुरी में लगातार विपरीत मौसम व भारी बारिश की संभावनाएं बनी रहती हैं, ऐसे में प्राथमिकता के साथ सभी रेन शैल्टरों का निर्माण यथाशीघ्र पूरा किया जाए ताकि बाबा केदार के दर्शन को पहुंच रहे श्रद्धालुओं को परेशानी का सामना न करना पड़े।

यह भी पढ़ेंः सावधान! उत्तराखंड में हैंड-फुट और माउथ डिजीज की दस्तक, माता पिता बच्‍चों का रखें ख्‍याल..

उप सचिव पीएमओ मंगेश घिल्डियाल ने प्राथमिकता के साथ फस्ट ऐड टूरिस्ट फैसीलिटी सेंटर तैयार करने के निर्देश देते हुए कहा कि उच्च हिमालयी क्षेत्र होने के कारण मैदानी इलाकों से बाबा के दर्शन को पहुंच रहे श्रद्धालुओं का स्वास्थ्य बिगड़ने के मामले भी सामने आते हैं। ऐसे में आधुनिक तकनीक एवं सुविधाओं के साथ चिकित्सा केंद्र तैयार होना आवश्यक है। उन्होंने सरस्वती नदी के समीप तैयार हो रहे वाटर एटीएम में भी तेजी लाने के निर्देश दिए। साथ ही मंदाकिनी आस्था पथ को भी अक्टूबर तक पूर्ण करने के निर्देश दिए ताकि बाबा के दर्शनों को पहुंच रही श्रद्धालुओं की भीड़ का उचित प्रबंधन किया जा सके। जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने बताया कि अक्टूबर माह तक विभिन्न निर्माण कार्य पूर्ण करने के क्रम में निर्माणदायी संस्थाओं को समय पर सभी कार्य पूर्ण करने को कहा गया है। निर्माणदायी संस्थाओं को यह भी निर्देश दिए गए हैं कि अतिरिक्त कार्मिकों की आवश्यकता पड़ने पर बिना देरी के तैनाती की जाए ताकि निर्माण कार्यों में तेजी लाई जा सके। इस अवसर पर अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी केदारनाथ योगेंद्र सिंह, अधिशासी अभियंता डीडीएमए प्रवीण कर्णवाल सहित अन्य अधिकारी, कर्मचारी व मंदिर समिति के पदाधिकारी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंड में फिर सियासी हलचल शुरू! कैबिनेट विस्तार और फेरबदल के लगाए जा रहे कयास..

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X