हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

यूक्रेन से उत्तराखंड लौटीं 4 छात्राएं, हिलवाणी से बयां किया अपना दर्द। कहा खौफनाक था मंजर..

देहरादूनः रूस-यूक्रेन युद्ध के बाद अब उत्तराखंड के छात्रों की स्वदेश वापसी होने लगी हैं। आज रविवार को उत्तराखंड की चार छात्राएं दोपहर बाद दिल्ली से जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंची। एयरपोर्ट पर पहले से ही मौजूद अपने परिजनों को देकर छात्राओं ने गले लगा लिया। परिजनों और यूक्रेन से लौटी छात्राओं का मिलन देखने लायक था, इस दौरान छात्राओं के साथ ही परिजनों के आंखों में भी खुशी के आंसू थे। छात्राओं के परिजनों ने भारत सरकार का धन्यवाद अदा करते हुए यूक्रेन में फंसे अन्य बच्चों की भी सकुशल भारत वापसी की कामना की। रविवार को उत्तराखंड की चार छात्राएं टिहरी निवासी अदिति कंडारी, श्रीनगर निवासी आकांक्षा सहित ऋषिकेश निवासी निशा ग्रेवाल और आयुषी रॉय नई दिल्ली से फ्लाइट से जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंची। ये चारों छात्राएं अलग-अलग रूट से नई दिल्ली पहुंची। यह चारों छात्राएं विकोवियन स्टेट मेडिकल यूनिवर्सिटी चेरनेविस्टि की छात्राएं हैं। हिलवाणी से खास बातचीत में छात्राओं ने बताया कि उन्हें तो ज्यादा दिक्कतें नहीं हुईं। लेकिन जब यूक्रेन पर हमला हुआ था, उस समय पूरा यूक्रेन सो रहा था। जैसे ही हमले की सूचना मिली, तो आंखों में आंसू आ गए, डरे भी। उनका शहर रोमानिया से नजदीक होने पर वह जल्दी भारत पहुंच गईं। देखें क्या कहा छात्राओं ने और उनके परिजनों ने….

1.9/5 - (7 votes)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X