हिलवाणी को सहयोग करने के लिए क्लिक करें👇

जखोली में पंचायती राज विभाग द्वारा आयोजित एसडीजी प्रशिक्षण कार्यशाला का हुआ शुभारंभ..

पंचायती राज विभाग उत्तराखंड सरकार द्वारा पंचायत प्रतिनिधियों का एवं विकासखंड स्तरीय रेखीय विभाग के कर्मियों का सतत विकास लक्ष्यों का स्थायीकरण विषय को लेकर प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन आज दिनांक 1 दिसंबर से शुरू हो गई है। आज से शुरू जनपद रुद्रप्रयाग के जखोली विकासखंड के सभागार में आयोजित प्रशिक्षण में ग्राम पंचायत प्रधानों को प्रशिक्षित किया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ एडीओ पंचायत दीपप्रकाश किमोठी, स्वास्थ्य विभाग से डॉ. रमाकांत, दिगम्बर, उद्यान विभाग से विक्रम राणा, बालविकास से सुशील देवी और मास्टर ट्रेनर सोहन मेहरा ने दीप प्रज्जवलित कर की।

प्रशिक्षण कार्यशाला की शुरुआत करते हुए “स्वस्थ गांव” थीम के तहत स्वास्थ्य विभाग से पहुंचे डॉ. रमाकान्त और दिगम्बर ने ग्राम प्रधानों को स्वास्थ्य संबंधी जानकारी व स्वस्थ्य संबंधी योजनाओं से अवगत किया और प्रशिक्षण दिया। एडीओ पंचायत दीपप्रकाश किमोठी ने भी ग्राम प्रधानों को सतत विकास के तहत प्रशिक्षण दिया। “बाल हितैषी गांव” थीम पर बाल विकास विभाग से पहुंची सुशील देवी ने प्रधानों को प्रशिक्षण दिया। वहीं मास्टर ट्रेनर नरेश चमोली ने “गरीबी मुक्त और उन्नत आजीविका गांव” थीम के तहत प्रशिक्षण दिया। मास्टर ट्रेनर सोहन मेहरा ने “जल पर्याप्त गांव” थीम को लेकर प्रधानों को प्रशिक्षण दिया।

पहले दिन पंचायतीराज देहरादून द्वारा आयोजित प्रशिक्षण कार्यशाला में न्याय पंचायत बाज़ीरा, कोटबंगर, पांजणा के ग्राम प्रधान शामिल हुए। पंचायतीराज की सतत विकास लक्ष्यों पर आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम विकासखण्ड में 9 दिसंबर तक व तत्पश्चात न्यायपंचायतों में 29 दिसंबर तक निर्धारित है। वहीं प्रशिक्षण कार्यशाला में एडीओ पंचायत दीपप्रकाश किमोठी, स्वास्थ्य विभाग से डॉ. रमाकांत, दिगम्बर, उद्यान विभाग से विक्रम राणा, बालविकास से सुशील देवी और पंचायतीराज के मास्टर ट्रेनर सोहन मेहरा, नरेश चमोली, जयदीप मेहरा, सुदर्शन सिंह कैंतुरा मौजूद रहे।

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिलवाणी में आपका स्वागत है |

X